हमारे व्हॉट्सपप् ग्रुप से जुड़िये

भारत-चीन सीमा: पिथौरागढ़-लिपुलेख राजमार्ग को बनाएंगे बारहमासी- जनरल वीके सिंह

रविवार को गुंजी पहुंचे जनरल सिंह का बीआरओ के अधिकारियों ने स्वागत किया। उन्होंने घट्टाबगड़-लिपुलेख सड़क निर्माण के बारे में भी जानकारी हासिल की।

 

 

रविवार को गुंजी पहुंचे जनरल सिंह का बीआरओ के अधिकारियों ने स्वागत किया। उन्होंने बीआरओ के चीफ इंजीनियर ब्रिगेडियर एमएनबी प्रसाद और कमांडर कर्नल एनके शर्मा से घट्टाबगड़-लिपुलेख सड़क निर्माण के बारे में भी जानकारी हासिल की।

 

सीमा को जोड़ने वाली अन्य सड़कों के निर्माण कार्य के बारे में भी पूछा। वीके सिंह यहां से नैनीसैनी एयरपोर्ट पहुंचे, जहां जिलाधिकारी डॉ.आशीष चौहान और बीआरओ के अधिकारियों से बातचीत की। इस दौरान पिथौरागढ़ नैनीसैनी एयरपोर्ट पर केंद्रीय मंत्री सिंह ने मीडिया कर्मियों से बातचीत में कहा कि सीमांत का क्षेत्र बेहद दुर्गम है। बेहद कठिन पहाड़ियां हैं। बर्फबारी होने से जो गांव वहां पर हैं उनमें रहने वाले लोगों को काफी मुश्किलों का सामना करना पड़ता है।

यह भी पढ़े :  उत्तराखंड सरकार का बड़ा फैसला, अब पूरे साल राशनकार्ड धारको को मिलेगी ये बड़ी सुविधा

ऐसे में ग्रामीण पलायन करते हैं, जिसे देखते हुए कोशिश की जा रही है कि पिथौरागढ़ से लिपुलेख तक सड़क बेहतर बनाई जाएगी। यहां ऐसा राजमार्ग बनाया जाएगा जिस पर वर्ष भर यातायात सुचारु रूप से चलता रहेगा। पर्यटकों, यात्रियों और स्थानीय ग्रामीणों को आवागमन की अच्छी सुविधा मिलेगी। जनरल सिंह ने कहा कि सड़क जल्द से जल्द बने इसके लिए बीआरओ को हर तरह का सामान और उपकरण उपलब्ध कराए जा रहे हैं

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here