हमारे व्हॉट्सपप् ग्रुप से जुड़िये

 , रुड़की।

नशे की लत में पड़कर तीन युवकों ने नकली नोट छापने की टकसाल ही बना ली।

पुलिस ने इस गिरोह का भंडाफोड़ करते हुए तीन युवकों को गिरफ्तार किया है। इनके कब्जे से करीब ढाई लाख के नकली नोट बरामद हुए हैं, जिसमें दो हजार, पांच सौ और 200 के नोट हैं।

रुड़की सिविल लाइन कोतवाली में मामले का पर्दाफाश करते हुए सीओ विवेक कुमार ने बताया कि सूचना मिल रही थी कि शहर में नकली नोट चलाने वाला गिरोह सक्रिय है। पुलिस ने घेराबंदी करते हुए इस गिरोह की धरपकड़ का प्रयास किया। पुलिस ने मुखबिर की मदद से अनुज कुमार, विकास उर्फ विक्की और जानी कुमार निवासी रुड़की को गिरफ्तार किया है। पुलिस ने इनके कब्जे से 2000 के 35 नोट 500 के 20 नोट और 200 के 25 नोट बरामद किए हैं।

यह भी पढ़े :  उत्तराखंड :श्मशान घाट में तांत्रिक ने चिता संग कर डाला खेल, अस्थियां लेने पहुंचे घरवाले तो उड़ गए होश!

सीओ विवेक कुमार ने बताया कि आरोपित अनुज कुमार बीकाम का छात्र है और वह पिछले कुछ समय से नशे की लत में पड़ गया था। नशे की लत पूरी करने के लिए उसकी मुलाकात इन दोनों से हुई, जिसके बाद इन्होंने नकली नोट छापने का योजना बनाई। आरोपितों ने यूट्यूब की मदद से नोट बनाने की विधि सीखी और इसके बाद प्रिंटर स्कैनर खरीद कर टकसाल बनाई।

इनके कब्जे से प्रिंटर स्कैनर समेत अन्य सामान भी मिला है। बताया गया है कि आरोपित भीड़भाड़ वाले इलाकों में नकली नोट चलाते थे। सीओ विवेक कुमार ने बताया पुलिस टीम की इस सफलता पर एसएसपी हरिद्वार ने ढाई हजार के इनाम की घोषणा की है। पुलिस टीम में गंगनहर कोतवाली प्रभारी अमरजीत सिंह, संतोष पैथवाल, सुनील रमोला, हरि सिंह, हसन जैदी, मनोज, संदीप, चेतन सिंह मौजूद रहे।
: नशे की लत ने बनाया अपराधी, यूट्यूब से सीखा नकली नोट छापने का तरीका; ऐसे चढ़े पुलिस के हत्थे

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here