हमारे व्हॉट्सपप् ग्रुप से जुड़िये

 पूर्व  मुख्यमंत्री हरीश रावत ने कहा कि मैं, भगवान केदारनाथ और सिद्धबली को प्रणाम करते हुये *सरकार जिसका नेतृत्व खनन प्रेमी मुख्यमंत्री कर रहे हैं*
उनसे आग्रह करना चाहता हूंँ कि चारधाम यात्रा को व्यवस्थित करें

हाईकोर्ट के पास कार्य योजना प्रस्तुत करें, जो प्रतिबंध है केवल 800 लोग श्री केदारनाथ और 1000 लोग श्री बद्रीनाथ जी जा सकते हैं, उसको हटवाएं। आपकी कार्य योजना पर सब कुछ निर्भर है। आपकी लापरवाही या जानबूझकर के यात्रा में रुचि नहीं लेना का परिणाम श्रद्धालुओं को और श्रद्धालुओं के साथ-साथ जिन लोगों की आजीविका जिसमें राज्य का पर्यटन, पर्यटन व्यवसायी और अर्थव्यवस्था सम्मिलित है, उनको भुगतना पड़ रहा है। मैं भगवान श्री केदारनाथ जी से खनन प्रेमी मुख्यमंत्री जी और उनकी सरकार को सद्बुद्धि की प्रार्थना करता हूंँ।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here