हमारे व्हॉट्सपप् ग्रुप से जुड़िये

ख़बर दुःखद है
मां के साथ घूमने आए एक बच्चे की कोसी नदी में नहाने के दौरान बहने से मौत हो गई। जबकि नदी में बह रहे तीन अन्य युवकों को स्थानीय लोगों ने बचा लिया। काफी प्रयास के बाद बच्चे का शव एक किलोमीटर दूर नदी से बरामद हुआ। जिसके बाद शव को पंचनामा की कार्रवाई के लिए पोस्टमार्टम हाऊस भेज दिया गया था बच्‍चे की मौत से परिवार के कोहराम मचा हुआ है।

 

आपको बता दे कि
जिला मुरादाबाद के वुड बाजार मानपुर निवासी मो. अली उम्र 10 वर्ष पुत्र शरफदीन अपनी मां नगमा, चाचा तारिक, चाची, फूफा व बुआ समेत 12 लोगों के साथ रामनगर घूमने आया था।
परिवार के लोगों में आठ बड़े व चार छोटे बच्चे थे।
आज रामनगर से सभी लोग ढिकुली की ओर कोसी नदी स्थित झूला पुल पर चले गए
पुलिस के मुताबिक झूला पुल में सभी लोग कोसी नदी में नहाने के लिए उतर गए। नहाने के दौरान नदी के तेज बहाव में अली उसकी मां नगमा, नेहा व कशिश बहने लगे।
उनके चिल्लाने पर आसपास के लोगों ने तीनों लोगों को तो बहने से बचा लिया। लेकिन छोटा बच्चा अली तेज बहाव में बह गया। सूचना पर गिरिजा पुलिस चौकी प्रभारी मनोज नयाल व अग्रिशमन विभाग की टीम मौके पर पहुंच गई। नदी में सर्च अभियान चलाया गया। एक घंटे बाद बच्चे का शव ढिकुली में एक होटल के समीप नदी में मिल गया। शव को पुलिस ने कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम हाऊस भेज दिया। शव का पोस्टमार्टम सोमवार को होगा।

यह भी पढ़े :  उत्तराखंड में उठी कोरोना काॅल में स्कूल फीस,बिजली,पानी के बिल माफ करने की मांग

मां की आंखों के सामने बह गया लाल

बताया जा रहा है कि दो बेटे अली व फरजीन के नदी में उतरने की जिद पर मां ने उन्हें नदी में जाने की अनुमति दी। साथ ही कहा कि वह किनारे पर ही रहें। लेकिन दोनों बेटों के बुलाने पर बच्चों के साथ मां भी नदी किनारे चली गई। इस बीच पानी के वेग से अंजान मां, दो बेटे एक अन्य बच्ची बहने लगी। किसी तरह मां, एक बेटे व बच्ची को तो लोगों ने बचा लिया। लेकिन मां के आंखों के सामने ही अली बह गया दुःखद
मां बच्चे को बचाने के लिए लोगों से गुहार लगाती रही। तब तक बच्चा तेज बहाव में आंखों से औझल हो चुका था। शव मिलने की जानकारी होने पर मां को स्वजनों ने बमुश्किल संभाला। वह बार बार अपने बच्चे को वापस लाने के लिए कहती रही।
बोलता उत्तराखंड का आप सभी से हाथ जोडकर निवेदन है कि आप इस मौसम में नदी किनारे, नहाने, सेल्फी लेने केलिए अनजान जगह ना चढ़े
आपकी जरा से भी लाहपरवाही परिवार को मुश्किल में डाल सकती है

यह भी पढ़े :  मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र रावत पूर्व मुख्यमंत्री हरीश रावत को देखने पहुँचे अस्पताल , हर दा बोले अब ठीक हूँ मैं

रामनगर घूमने आए पांच लोग कोसी नदी में बहे, चार को बचाया, बच्‍चे की मौत

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here