मौसम विभाग के पूर्वानुमान के मुताबिक ही राज्य में एक बार फिर मौसम बदलने की शुरुआत हो चुकी है। मौसम विभाग ने तीन और चार फरवरी को उत्तराखंड के कुमाऊं मंडल के जनपदों में भारी से बहुत भारी बारिश और 2500 मीटर से ऊंचाई वाले इलाकों में बर्फबारी का अनुमान लगाया है। कुमाऊं मंडल में जहां ऑरेंज अलर्ट जारी किया गया है, वहीं गढ़वाल मंडल के कुछ जनपदों में भारी बारिश को लेकर येलो अलर्ट जारी किया गया है।

मौसम विभाग के अनुसार तीन फरवरी को गढ़वाल मंडल के जनपदों में भारी बारिश और 25 सौ मीटर से अधिक ऊंचाई वाले इलाकों में बर्फबारी हो सकती है। देहरादून, हरिद्वार, पौड़ी, नैनीताल एवं ऊधमसिंह नगर में गर्जन के साथ ओलावृष्टि व बिजली चमकने की संभावना है। तीन व चार फरवरी के लिए कुमाऊं मंडल में जहां भारी से बहुत भारी बारिश का ऑरेंज अलर्ट जारी किया गया है, वहीं गढ़वाल मंडल के कुछ जनपदों में भारी बारिश को लेकर येलो अलर्ट जारी किया गया है।

यह भी पढ़े :  उत्तराखंड में अस्पतालों ने छुपाए कोरोना संक्रमितों की मौत के आंकड़े, 89 मृतक, कई अस्पतालों ने नहीं दी मौत की सूचना

 

कुमाऊं मंडल के कुछ जिलों में भारी से बहुत भारी बारिश और बर्फबारी के मद्देनजर लोगों से संवेदनशील इलाकों में एहतियात बरतने का सुझाव दिया गया है। इन इलाकों में भूस्खलन, चट्टान गिरने से सड़कें अवरुद्ध होने और नदियों में अति प्रवाह मुसीबत का कारण बन सकता है। संबंधित जिला प्रशासन से एहतियाती उपाय करने को कहा गया है।

मौसम विभाग के निदेशक बिक्रम सिंह ने बताया कि बुधवार शाम से राज्य के अनेक हिस्सों में मौसम बदलने की शुरुआत हो चुकी है। इसका व्यापक असर तीन और चार फरवरी को प्रदेश में देखने को मिलेगा। पश्चिमी विक्षोभ के प्रभावी रहने से ठंड में वृद्धि होगी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here