धामी सरकार की आम बजट के लिए खास तैयारी, आज हितधारकों के साथ संवाद, सीएम लेंगे सुझाव
इस पूरी कवायद में सबका साथ, सबका विकास, सबका विश्वास की भावना निहित

वित्तीय वर्ष 2022-23 का बजट तैयार करने के लिए प्रदेश की धामी सरकार पहली बार जन सहभागिता सुनिश्चित करने के लिए संवाद कार्यक्रम कर रही है। इससे उत्तराखंड के बजट में उनकी इच्छा के अनुरूप कल्याणकारी योजनाओं को शामिल किया जाएगा।

कुमाऊं मंडल के प्रतिनिधि समूहों के साथ सरकार नैनीताल में मुख्यसेवक धामी एक संवाद कार्यक्रम कर चुके है। वही वित्त मंत्री के अनुसार वित्तीय वर्ष 2022-23 का बजट तैयार करने के लिए पहली बार प्रदेश सरकार मुख्यमंत्री धामी के निर्दश पर
जन सहभागिता सुनिश्चित करने के लिए संवाद कार्यक्रम कर रही है। इससे उत्तराखंड के बजट में उनकी इच्छा के अनुरूप कल्याणकारी योजनाओं को शामिल किया जाएगा

वही आज बजट के लिए सुझाव आमंत्रित करने की कड़ी में प्रदेश के मुख्यमंत्री गढ़वाल मंडल के प्रतिनिधि समूहों के साथ संवाद करने जा रही है
आज देहरादून में मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी और वित्त मंत्री प्रेमचंद अग्रवाल हित धारकों के साथ वार्ता करेंगे और आगामी बजट के लिए उनके विचार और सुझाव लेंगे।
गढ़वाल मंडल के प्रतिनिधि समूहों की बैठक (मुख्य सेवक सदन) में शाम चार बजे से होगी। मुख्यमंत्री धामी की मौजूदगी में गढ़वाल मंडल से संबंधित समूहों जैसे होटल व रेस्टोरेंट एसोसिएशन, टूर ऑपरेटर एसोसिएशन, कृषि, उद्यान, जिला दुग्ध उत्पादन सहकारी संघ लिमिटेड, इंडस्ट्रीज एसोसिएशन, सिडकुल एसोसिएशन, लघु उद्योग भारती सेलाकुई, अक्षय ऊर्जा एसोसिएशन, होम स्टे, ट्रेड एसोसिएशन, सिडकुल एसोसिएशन, डेयरी फेडरेशन, चार्टर्ड अकाउंटेंट आदि से सुझाव लिए जाएंगे।
 

यह भी पढ़े :  उत्तराखंड नौवां राज्य जहां पहुंची ऑक्सीजन एक्सप्रेस, गढ़वाल-कुमाऊं भेजा गया बड़ा हिस्सा

बजट के लिए सरकार को मिल रहे काम के सुझाव

वित्त मंत्री ने बताया कि गढ़वाल मंडल के अंतर्गत आने वाले नगर निगमों के मेयर, जिला पंचायत अध्यक्ष को भी संवाद कार्यक्रम का हिस्सा बनाते हुए सुझाव लिए जाएंगे। इस पूरी कवायद में सबका साथ, सबका विकास, सबका विश्वास की भावना निहित है। उन्होंने कहा कि बजट में राज्य के सुगम और दुर्गम इलाकों में रहने वाले लोगों को लाभ मिले, इसका विशेष ध्यान रखा जाएगा। इस दौरान बजट से संबंधित सभी अधिकारी भी मौजूद रहेंगे।

बता दे कि आम बजट के लिए धामी सरकार को हित धारकों के माध्यम से काम के सुझाव मिल रहे हैं। कुमाऊं मंडल में हुए संवाद में किसानों, बागवानों, उद्यमियों और व्यापारियों के कई अहम सुझाव सरकार को प्राप्त हुए। इनमें एक सुझाव सभी जिला मुख्यालयों पर संगध पौधा अनुसंधान केंद्र स्थापित करने, होम स्टे की नीति को स्थानीय लोगों के लिए और अधिक हितकारी बनाने, स्वरोजगार की प्रभावी और कारगर योजना बनाने जैसे कई अहम सुझाव सरकार को प्राप्त हुए हैं। सरकार को ऑनलाइन सुझाव भी प्राप्त होने लगे हैं। लोगों ने शिक्षा, रोजगार, पलायन, भू कानून, निवेशक, स्वरोजगार से जुड़े सुझाव भेजे हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here