हमारे व्हॉट्सपप् ग्रुप से जुड़िये

03 दिवसीय कुमाऊं दौरे के पहले दिन जगह-जगह पर पूर्व सीएम त्रिवेन्द्र का पार्टी की रीढ़ कहे जाने वाले जमीनी कार्यकर्ताओं ने किया जोरदार स्वागत।
_____________
कुमाऊं दौरा-प्रथम दिवस

आज अपने 03 दिवसीय कुमाऊं दौर के पहले दिन पूर्व मुख्यमंत्री त्रिवेन्द्र सिंह रावत विभिन्न कार्यकर्मों में शामिल हुए। सड़क मार्ग द्वारा कुमाऊं के लिए रवाना पूर्व सीएम का जगह-जगह पर भारतीय जनता पार्टी के कार्यकर्ताओं ने जोरदार स्वागत किया। अपने पहले तय कार्यक्रम जसपुर में उन्होंने डॉ. श्यामा प्रसाद मुखर्जी के बलिदान दिवस के अवसर भारतीय जनता पार्टी द्वारा सेवा ही संगठन-2 के अंतर्गत जरूरतमंदों को राशन किट वितरित किए। उसके बाद पूर्व सीएम काशीपुर के लिए रवाना हुए जहां उन्होंने पार्टी द्वारा आयोजित रक्तदान शिविर में शामिल होकर रक्तदाताओं का उत्साहवर्धन किया। पार्टी कार्यकर्ताओं द्वारा उनका गर्मजोशी से स्वागत किया गया।

काशीपुर में रक्तदान शिविर के बाद पूर्व सीएम त्रिवेन्द्र हल्द्वानी के लिए निकल पड़े, हल्द्वानी पहुंचने पर उनका पार्टी की रीढ़ कहे जाने वाले जमीनी कार्यकताओं ने जोरदार स्वागत किया। यहां भी पूर्व सीएम को रक्तदान शिविर में शामिल होना था। रक्तदान शिविर में पहुंचते ही युवाओं का उत्साह देखते ही बन रहा था। शिविर त्रिवेन्द्र सिंह रावत जिन्दाबाद के नारों से गूंज उठा। पूर्व सीएम त्रिवेन्द्र ने रक्तदाताओं का उत्साहवर्धन किया साथ ही उन्होंने दोनों शिविरों को सफल बनाने के लिए वहां मौजूद ब्लड बैंक की पूरी टीमों का भी आभार प्रकट किया। इसके पश्चात पूर्व सीएम त्रिवेन्द्र हल्द्वानी स्थिति पार्टी कार्यालय पहुंचे जाना उन्होंने डॉ. श्यामा प्रसाद मुखर्जी के बलिदान दिवस पर उनका स्मरण किया और पार्टी कार्यकर्ताओं से भेंट एवं वार्ता की।

यह भी पढ़े :  सीएम तीरथ ने केंद्रीय मंत्री गिरीराज सिंह से मांगी इस योजना की स्वीकृति

पूर्व सीएम ने अपने संबोधन में कहा कि डॉ. श्यामा प्रसाद मुखर्जी के सपनों को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने साकार कर उन्हें सबसे बड़ी श्रद्धांजलि दी है। उन्होंने कहा कि डॉ. मुखर्जी जी, अखण्ड और एक भारत के लिए कश्मीर को देश की मुख्यधारा में लाना चाहते थे। उनका कहना था कि एक देश एक विधान होना चाहिए। धारा 370 को हटाने के लिए उन्होंने काफी संघर्ष किया और अपने जीवन का बलिदान किया। उन्होंने कहा कि अखण्ड भारत के लिए दिया गया उनका बलिदान सदैव याद रखा जाएगा। पूर्व सीएम ने कहा कि प्रधानमंत्री  नरेन्द्र मोदी ने जम्मू कश्मीर से धारा 370 एवं 35A समाप्त कर उनके सपने को साकार किया। आज जम्मू और कश्मीर विकास की मुख्य धारा से जुड़े हैं।

यह भी पढ़े :  उत्तराखंड : शनिवार को कई इलाकों में मौसम खराब, तीसरे दिन भी यमुनोत्री हाईवे बंद, ऋषिकेश-बदरीनाथ मार्ग धंसा

पूर्व सीएम त्रिवेन्द्र ने कहा कि कोसी और रिस्पना नदी के कायाकल्प का कार्य हमने किया। जहाँ एक समय कोसी नदी में 48 पानी के स्रोत हुआ करते थे आज वहां मात्र 8 रह गए हैं। उन्होंने युवाओं से आह्वान किया है कि इस बार हम 01 लाख वृक्ष लगाएंगे, उन्हें यह भी आह्वान किया कि हम ज्यादा से ज्यादा पीपल और बरगद के वृक्ष लगाएँ, जो कि पर्यावरण संरक्षण और ग्लोबल वार्मिंग को रोकने में मददगार साबित होंगे।

पूर्व सीएम ने सभी को कोविड-19 की तीसरी लहर के प्रति बेहद ही सतर्क और सावधान होने को कहा, उन्होंने विशेषकर 18 साल से कम उम्र के बच्चों को तीसरी लहर से सावधान होने को कहा है। पूर्व सीएम ने युवाओं से आह्वान किया कि टीकाकरण के पहले रक्तदान अवश्य करें ताकि हम ब्लड बैंकों की रक्त की कमी को समय रहते दूर किया जा सके। उन्होंने कहा कि आज हमारी पार्टी द्वारा प्रदेश के कोने कोने में सेवा ही संगठन-2 के माध्यम से रक्तदान शिविर के आयोजन किए जा रहे हैं। शिविरों में युवाओं का उत्साह हम साफ देख सकते हैं।

यूट्यूब चैनल सब्सक्राइब करें

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here