हमारे व्हॉट्सपप् ग्रुप से जुड़िये

देहरादूनः कोरोना महामारी की विपदा की इस घड़ी में जहां कुछ लोग जीवनरक्षक दवाइयों व आक्सीजन सिलिंडर के नाम पर कालाबाजारी कर रहे थे, लेकिन अब प्लाज्मा के नाम पर भी पैसे ऐंठने शुरू कर दिए है। इंसानियत के रिश्ते को शर्मशार करने वाला एक ऐसा ही मामला सामने आया है, जहां एक व्यक्ति प्लाज्मा के नाम पर एक पीड़ित पैसे ऐंठ रहा था। डालनवाला कोतवाली पुलिस ने आरोपित को गिरफ्तार कर लिया है।

एसपी सिटी सरिता डोबाल ने बताया कि शुक्रवार को कार्तिक निवासी 97 बलवीर रोड डालनवाला ने आराघर पुलिस चौकी में तहरीर दी कि उनकी माता कोरोना संक्रमित है और दून अस्पताल में आइसीयू वार्ड में दाखिल है। हालत गंभीर होने के कारण चिकित्सकों ने उनके लिए प्लाज्मा की आवश्यकता बताई। कार्तिक ने प्लाज्मा के लिए काफी अस्पतालों व अन्य जगह प्रयाए किए, लेकिन कहीं भी उन्हें प्लाज्मा नहीं मिला। ऐसे में उन्होंने एक मैसेज बनाकर अपने मोबाइल नंबर सहित इंटरनेट मीडिया पर डाला। गुरुवार को शाम को एक व्यक्ति ने फोन किया कि उसका नाम गुरु साजन सिंह है। वह प्लाज्मा उपलब्ध करा सकता है।

इसके लिए पहले 2500 रुपये गूगल पे के माध्यम से डालने पड़ेंगे। आर्थिक तंगी में चल रहे कार्तिक ने अपनी मां की जान बचाने के लिए पहले उसके खाते में 300 रुपये डाले। बाकी पैसे प्लाज्मा मिलने के बाद देने को कहा। इसके बाद आरोपित पैसों के लिए लगातार फोन करता रहा आरोपित ने कार्तिक की ओर से प्लाज्मा के लिए बनाए मैसेज से कार्तिक का नाम हटाकर अपना नाम डाल दिया और मैसेज अलग-अलग ग्रुपों में डाल दिया, ताकि कोई व्यक्ति प्लाज्मा देने के लिए आगे आए।

शिकायत के आधार पर चौकी प्रभारी आराघर महावीर सिंह सजवान ने आरोपित को तहसील चौक के पास से पकड़ लिया। पूछताछ में आरोपित ने अपना नाम गुरु साजन सिंह बख्शी निवासी मुन्नू गंज बताया। आरोपित ने बताया कि उसने एक ग्रुप में अपना नंबर जुड़वा रखा है। इसमें वह दावा कर रहा था कि आइसीयू, बेड व प्लाज्मा के लिए उससे संपर्क कर सकते हैं। एसपी सिटी ने बताया कि ग्रुप के बारे में जानकारी हासिल की जा रही है।

यूट्यूब चैनल सब्सक्राइब करें

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here