Wednesday, June 12, 2024
Homeब्रेकिंग न्यूज़चारधाम:14 दिन की यात्रा में 41 श्रद्धालुओं की गई जान, हार्ट अटैक...

चारधाम:14 दिन की यात्रा में 41 श्रद्धालुओं की गई जान, हार्ट अटैक से हुईं सबसे ज्यादा मौतें

चारधाम:14 दिन की यात्रा में 41 श्रद्धालुओं की गई जान, हार्ट अटैक से हुईं सबसे ज्यादा मौतें

गंगोत्री,यमुनोत्री, केदारनाथ और बदरीनाथ धाम के कपाट खुलने के साथ ही चारधाम यात्रा 2022 शुरू हो गई। 14 दिन की यात्रा में 41 तीर्थ यात्रियों की मौत हुई। हार्ट अटैक से मरने वालों संख्या अधिक

चारधाम में 14 दिनों में अभी तक कुल 41 तीर्थ यात्रियों की मौत हो चुकी है। इनमें से सबसे अधिक मरीजों की मौत हार्ट अटैक से हुई हैं। हालांकि इनमें से बड़ी सख्या में ऐसे भी तीर्थ यात्री थे जिन्हें अन्य बीमारियां भी थी। चारधाम से जुड़े तीनों जिलों के जिला प्रशासन की ओर से जारी रिपोर्ट के अनुसार केदारनाथ धाम में अभी तक कुल 15 तीर्थ यात्रियों की मौत हो चुकी है।

यमुनोत्री में अभी तक 14 तीर्थ यात्रियों की मौत हो चुकी है। जबकि बद्रीनाथ में आठ और गंगोत्री में कुल चार मरीजों की मौत हुई है। चारधाम में स्वास्थ्य दिक्कतों के बाद अभी तक 37 हजार 860 तीर्थ यात्रियों को उपचार दिया गया है। जबकि केदारनाथ धाम से 20 यात्रियों को आपात स्थिति में एयरलिफ्ट कराया गया है।

स्वास्थ्य विभाग की ओर से जारी बुलेटिन के अनुसार चारधाम में कई यात्रियों को ऑक्सीजन की कमी तथा हाइपोथर्मिया जैसी स्थिति का सामना करना पड़ रहा है। इन स्थितियों के बाद अभी तक 37860 यात्रियों की हेल्थ स्क्रीनिंग कर उन्हें उपचार दिया गया है। यात्रा में दिक्कत के बाद डॉक्टरों की ओर से यात्रियों को विश्राम की सलाह दी जा रही है।

इससे लोगों को बड़ी राहत मिल रही है। इधर यात्रियों की संख्या में इजाफे को देखते हुए स्वास्थ्य विभाग की सचिव राधिका झा ने स्वास्थ्य महानिदेशक डॉ शैलजा भट्ट को चार धाम यात्रा के दौरान अतिरिक्त संख्या में फार्मासिस्ट तैनात करने के निर्देश दिए हैं। इसके साथ ही उन्होंने यात्रा रूट पर अतिरिक्त दवाएं उपलब्ध कराने के भी निर्देश दिए हैं।

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

Recent Comments