हमारे व्हॉट्सपप् ग्रुप से जुड़िये

हरिद्वार: ठगी करने वाले गिरोह वाकई प्रदेश में सक्रिय हैं मगर पंडित के भेष में ही कोई व्यक्ति लाख रुपए की ठगी कर निकलेगा, ये तो किसी ने अंदाजा नहीं लगाया होगा। हरिद्वार निवासी एक पंडित ने पहले दो भाइयों को शादी के लिए युवतियां दिखा दीं। शादी की बात पक्की हुई और परिवार राजस्थान से हरिद्वार पहुंचा तो पंडित लाखों रुपए लेकर गायब हो गया। अब पुलिस को पीड़ितों की तरफ से आरोपित पंडित समेत दोनों युवतियों के खिलाफ शिकायत मिली हैं। केस भी दर्ज कर लिया गया है।

शहर कोतवाली पुलिस से मिली जानकारी के अनुसार राजस्थान जिला दौसा कस्बा बांदीकुई निवासी शेर सिंह ने कोतवाली में तहरीर दी है। वहां रेलवे स्टेशन पर ठेकेदार राधा देवी का खाने का ठेला चलाने वाला शेर सिंह दो हफ्ते पहले जिला संभल के गांव मैदावली निवासी पंडित बालिस्टर यादव से मिला। दरअसल यह मुलाकात राधा देवी के दो कुंवारे बेटों की शादी के सिलसिले में हुई थी।

उत्तरी हरिद्वार के खड़खड़ी निवासी बालिस्टर ने शेर सिंह को शादी कराने का आश्वासन दिया मगर यह भी कहा कि चूंकि लड़कियां गरीब हैं, तो शादी का खर्चा उन्हें ही करना होगा। साथ ही शादी का आयोजन हरिद्वार में ही होगा। अब सब कुछ तय कर लिया गया। बालिस्टर के बताए दिन यानी पांच मई को शेर सिंह दोनों युवकों मनीष मिश्रा व रवि को लेकर हरिद्वार आ गया। स्टेशन पर ही पंडित ने युवतियां भी दिखवा दीं।

अब हुआ ये कि लड़कियों के घर पर खाने पीने का इंतजाम कराने के नाम पर एक लाख रुपये लेकर पंडित वहां से भाग निकला। इंतजार की घड़ी लंबी हुई मगर पंडित का कुछ अता पता नहीं चला। शेर सिंह ने इसके बाद शक के बिना पर खोजबीन की। जिसके बाद सब कहानी फर्जी निकली। शेर सिंह का आरोप है कि जिन युवतियों को शादी के लिए बुलाया गया था, वह भी कुछ देर बाद ही चली गईं।

शहर कोतवाल अमरजीत सिंह ने मामले की जानकारी दी। उन्होंने बताया कि शेर सिंह द्वारा की गई शिकायत पर बालिस्टर यादव, सोनाली चौहान निवासी हरिपुर कलां व दीप निवासी रानीगली भूपतवाला के खिलाफ धोखाधड़ी का केस दर्ज कर लिया गया हैं उन्होंने बताया फिलहाल पुलिस ने मामले की जांच शुरू कर दी है। जिसमें पहले दोनों युवतियों की तलाश की जा रही है।

यूट्यूब चैनल सब्सक्राइब करें

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here