उत्तराखंड की पांचवीं विधानसभा का चुनाव प्रचार शनिवार शाम छह बजे थम गया है। अब सोमवार 14 फरवरी को मतदान का इंतजार है। शनिवार को प्रचार थमने से पहले पीएम नरेंद्र मोदी, गृह मंत्री अमित शाह, रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह, यूपी के सीएम योगी आदित्यनाथ, कांग्रेस नेता प्रियंका गांधी, सचिन पायलट, दिल्ली के डिप्टी सीएम मनीष सिसोदिया सहित कई दिग्गज चुनाव मैदान में हुंकार भरते नजर आए।

आठ जनवरी को चुनाव आयोग ने उत्तराखंड सहित पांच राज्यों में चुनाव कार्यक्रम घोषित किया था। उत्तराखंड में सोमवार 14 फरवरी को मतदान होना है। आयोग की गाइडलाइन के अनुसार मतदान समाप्त होने से 48 घंटे पूर्व चुनाव प्रचार समाप्त हो जाता है। चूंकि उत्तराखंड में सोमवार को शाम छह बजे तक मतदान होगा, इस कारण यहां चुनाव प्रचार शनिवार शाम छह बजे समाप्त हो गया है। अब कोई दल या प्रत्याशी रैली, जनसभा या अन्य माध्यम से प्रचार नहीं कर पाएगा। अलबत्ता मतदाताओं से डोर टू डोर सम्पर्क किया जा सकता है।

यह भी पढ़े :  निर्विरोध उत्तराखंड को मिली पहली विधानसभा महिला अध्यक्ष ऋतु खंडूरी

पोलिंग पार्टियों की रवानगी तेज
शनिवार को प्रदेश की 1442 मतदान पार्टियों की भी रवानगी हुई, इससे पहले शुक्रवार को भी 35 पार्टियों की रवानगी हुई थी। उक्त सभी पार्टियां रात्रि विश्राम का एक पड़ाव रास्ते में पूरा करते हुए, रविवार को अपने गंतव्य स्थल तक पहुंचेंगी। इसके बाद सर्वाधिक 10222 पार्टियां आज रविवार को रवाना होंगी। मतदान के बाद इसी क्रम में पोलिंग पार्टियों की वापसी भी होगी। गौरतलब है कि प्रदेश में कई मतदान केंद्रों तक पहुंचने के लिए पोलिंग पार्टियों को 10 से 20 किमी तक पैदल चलना पड़ता है। मतदान केंद्र की जिला मुख्यालय और पैदल दूरी के अनुसार ही निर्वाचन आयोग पोलिंग पार्टियों की रवानगी करता है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here