युवती को बगीचे में आम तोड़ने के बहाने बुलाया, गैंगरेप कर तीन आरोपी फरार

सिडकुल में तीन युवकों ने युवती के साथ जंगल में गैंगरेप किया और बेसुध हालत में उसे छोड़कर फरार हो गए। युवती को खेत में आम तोड़ने के बहाने आरोपी ले गए थे। गैंगरेप कर तीन आरोपी फरार हो गए।

सिडकुल में तीन युवकों ने युवती के साथ जंगल में गैंगरेप किया और बेसुध हालत में उसे छोड़कर फरार हो गए। युवती को खेत में आम तोड़ने के बहाने आरोपी ले गए थे। आरोपियों ने 500 रुपये की मजदूरी तय की थी। पुलिस ने तीनों आरोपियों के खिलाफ केस दर्ज कर लिया है। मामला दो अलग-अलग समुदाय से जुड़ा है।

यह भी पढ़े :  बर्फबारी के बीच बरात, कुमाऊँ से लेकर गढ़वाल की पहाड़िया बर्फ से लकदक , तभी चमोली में आया भूकंप , आज तो अपना उत्तराखंड देश विदेश तक वायरल है।

इंस्पेक्टर प्रमोद कुमार उनियाल के मुताबिक घटना बीते रविवार दोपहर की है, जब मूल रूप से बिजनौर निवासी युवती औरंगाबाद गांव में आम के बाग में मजदूरी करने के लिए पहुंची थी। यहां एक किसान के बाग में युवती आम तोड़ रही थी। आरोप है कि दोपहर तीन बजे हजाराग्रांट निवासी एक युवक पहुंचा और उसने युवती से अपने बाग के आम तुड़वाने के लिए मजदूरी तय की।

500 रुपये की मजदूरी तय कर युवक युवती को अपने साथ मोटरसाइकिल में बैठाकर हजाराग्रांट गांव ले गया। आरोप है कि युवक के साथ दो अन्य युवक भी आ गए। आरोप है कि जंगल के सुनसान इलाके में बाइक रोककर तीनों ने उसके साथ छेड़छाड़ शुरू कर दी। आरोप है कि डरा-धमकाकर जान से मारने की धमकी देते हुए उसके साथ तीनों ने गैंगरेप किया।

यह भी पढ़े :  हर गांव में पहुंचेगा इंटरनेट, सभी स्कूलों और अस्पतालों में मिलेगी फ्री वाई-फाई सेवा, आगे बढ़ता उत्तराखंड !

आरोपी बेसुध हालत में उसे छोड़कर भाग गए। युवती सिडकुल में किराये के मकान में रहती है और मजदूरी कर अपना घर चलाती है।प्रभारी निरीक्षक प्रमोद कुमार उनियाल ने बताया कि पीरु पुत्र सीदा, वाजिद पुत्र शौकत, अब्दुल पुत्र नन्हा निवासीगण हजारा ग्रांट के खिलाफ गैंगरेप और जान से मारने की धमकी देने के संबंध में मुकदमा दर्ज कर जांच शुरू कर दी

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here