Tuesday, May 21, 2024
Homeइवेंट्सश्री गुरु राम राय इंस्टीट्यूट आफ मेडिकल एण्ड हैल्थ साइंसेज में आयोजित...

श्री गुरु राम राय इंस्टीट्यूट आफ मेडिकल एण्ड हैल्थ साइंसेज में आयोजित काॅन्फ्रेंस में देश भर से 250 हड्डी रोग विशेषज्ञों ने भाग लिया। तीन दिवसीय काॅन्फ्रेंस में विशेषज्ञों ने देश दुनिया में आर्थोपैडिक्स सर्जरी के क्षेत्र में हो रहे आधुनिक उपचार, सर्जरी, उपकरणों व माॅर्डन आथोपैडिक उपचार से सम्बन्धित शोध कार्यों पर अनुभव सांझा किए।

उत्तरांचल आर्थोपैडिक एसोसिएशन की स्टेट काॅन्फ्रंस में देश भर से जुटे हड्डी रोग विशेषज्ञ

’स्ट्राॅग बोन, स्ट्राॅंग नेशन’ रहा उत्तराखण्ड स्टेट काॅन्फ्रंस का थीम

दूरबीन विधि से बैंकार्ट सर्जरी, एंटीरियर कु्रशिएट लिगांमेट और मिनिसकस सर्जरी का सीधा प्रसारण किया गया

 

देहरादून।

 

  • उत्तरांचल आथोपैडिक एसोसिएशन की ओर से 19वीं स्टेट काॅन्फ्रंस का आयोजन किया गया। श्री गुरु राम राय इंस्टीट्यूट आफ मेडिकल एण्ड हैल्थ साइंसेज में आयोजित काॅन्फ्रेंस में देश भर से 250 हड्डी रोग विशेषज्ञों ने भाग लिया। तीन दिवसीय काॅन्फ्रेंस में विशेषज्ञों ने देश दुनिया में आर्थोपैडिक्स सर्जरी के क्षेत्र में हो रहे आधुनिक उपचार, सर्जरी, उपकरणों व माॅर्डन आथोपैडिक उपचार से सम्बन्धित शोध कार्यों पर अनुभव सांझा किए।
    श्री महंत इन्दिरेश अस्पताल के हड्डी रोग विभाग के प्रमुख व काॅन्फ्रेंस के आयोजक सचिव डाॅ पुनीत गुप्ता ने जानकारी दी कि उत्तरांचल आर्थोपैडिक एसोसिएशन की 19वीं स्टेट काॅन्फ्रंस के माध्यम से कई महत्वपूर्णं आर्थोपैडिक्स विषयों को जानने समझने का अवसर मिला।

शुक्रवार को श्री गुरु राम राय इंस्टीट्यूट आफ मेडिकल एण्ड हैल्थ साइंसेज के आडिटोरिम में कार्यक्रम का शुभारंभ मुख्य अतिथि डाॅ रमेश सेन, पूर्व अध्यक्ष, इण्डियन आर्थोपैडिक एसोसिएशन, कार्यक्रम के अति विशिष्ट अतिथि डाॅ नवीन ठक्कर, वर्तमान सचिव, इण्डियन आर्थोपैडिक एसोसिएशन, कार्यक्रम के संरक्षक डाॅ उदय सिंह रावत, कुलपति, श्री गुरु राम राय विश्वविद्यालय, कार्यक्रम के सह संरक्षक डाॅ यशबीर दीवान, प्राचार्य, श्री गुरु राम राय विश्वविद्यालय ने संयुक्त रूप से किया। स्ट्राॅग बोन, स्ट्राॅंग नेशन थीम पर आधारित स्टेट काॅन्फ्रंेस में विशेषज्ञों ने लाइव सर्जरी भी की। मुम्बई से आई विशेषज्ञ डाॅक्टरों की टीम ने लाइव सर्जरी में बैंकार्ट रिपेयर सर्जरी, एंटीरियर कुशिएट लिगामंट और मिनिसकस सर्जरी की जानकारी दी। घुटने और कंधे की दूरबीन सर्जरी के ये मामला इसलिए भी महत्वपूर्ण रहे क्योंकि इस सर्जरी को दूरबीन विधि से किया गया व सर्जरी का लाइव प्रसारण किया गया। काॅन्फ्रंस में पीआरपी, स्टेम सेल्स, कार्टिलेज रिपेयर, आटोलोगस कांड्रोसाइट इंम्प्लांटेशन, मेनिसकस रिपेयर, ओस्टेओटोमी विषयों पर भी जानकारी दी गई।
इण्डियन आथोपैडिक एसोसिएशन के पूर्व अध्यक्ष डाॅ रमेश सेन ने कहा कि देश विदेश में आ रही नई तकनीक व इलाज से नई पीढ़ी को रूबरू करवाना ही इस काॅन्फ्रेंस का उद्देश्य था ताकि इलाज की नई तकनीकों का लाभ आम जनमानस को मिल सके।
इण्डियन आर्थोपैडिक एसोसिएशन के वर्तमान सचिव डाॅ नवीन ठक्कर ने कहा कि एसोएिशन के द्वारा देश भर में कार्य किए जा रहे हैं। आर्थोपैडिक्स सर्जन की समस्याओं के निवारण के लिए एसोएिशन हमेशा प्रयासरत है।
उत्तरांचल आर्थोपैडिक्स एसोसिएशन के अध्यक्ष डाॅ अजय पाल सिंह और सचिव डाॅ पुनीत अग्रवाल ने भी काॅन्फेस के सफल आयोजन पर सभी सदस्यों को बधाई दी। कार्यक्रम में डाॅ विमल नौटियाल, डाॅ नवनीत बड़ोनी ने भी विचार व्यक्त किये। काॅन्फ्रेंस के आयोजक सचिव डाॅ पुनीत गुप्ता ने धन्यवाद ज्ञापन किया। इस अवसर पर डाॅ उत्तरखण्ड एनएमसी के अध्यक्ष डाॅ अजय खन्ना, सचिव डाॅ डी डी चोधरी, आईएमए देहरादून के अध्यक्ष डाॅ आलोक सेमवाल, कॉन्फ्रेंस को
को सफल बनाने में श्री महंत इन्दिरेश अस्पताल के हड्डी रोग विभाग के सभी डाॅक्टरों, नर्सिंग स्टाफ व सहायक स्टाफ सहित भूपेन्द्र रतूड़ी, राहुल वर्मा, प्रमोद कुमार, भास्कर मैंदोला आदि का विशेष सहयोग रहा।

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

Recent Comments