हमारे व्हॉट्सपप् ग्रुप से जुड़िये

*समीक्षा बैठक में प्रभारी मंत्री की चेतावनी, कार्य प्रणाली में सुधारात्मक रवैया न अपनाया तो होगी कार्यवाही*

*कार्य में लापरवाही पर महाराज ने लोनिवि अधिकारियों को लगाई जमकर फटकार*

*भाजपा कार्यसमिति की बैठक में भी किया वर्चुवल प्रतिभाग*

प्रदेश के पर्यटन, मंत्री सतपाल महाराज की अध्यक्षता में शनिवार को कलेक्ट्रेट सभागार में जनपद स्तरीय अधिकारियों के साथ समीक्षा बैठक सम्पन्न हुयी।

जिला कलेक्ट्रेट सभागार में शनिवार को हुई बैठक में जहाँ एक ओर प्रदेश के पर्यटन, व जनपद के प्रभारी मंत्री सतपाल महाराज ने विभागीय अधिकारियों की जमकर क्लास ली वहीं उन्होने इससे पूर्व जिला भाजपा पदाधिकारियों व कार्यकर्ताओं के साथ पार्टी कार्यालय में जाकर प्रदेश कार्यसमिति की बैठक में भी वर्चुवल शामिल होकर प्रतिभाग किया।
जिला कलेक्ट्रेट सभागार में हुई समीक्षा बैठक में जनपद के प्रभारी मंत्री सतपाल महाराज ने अधिकारियों को निर्देश दिये कि जो बजट जिस मद में आवंटित किया गया है उस कार्यो को गुणवत्ता व समयबद्धता के साथ शतप्रतिशत खर्च करना सुनिश्चित करें। प्रभारी मंत्री सतपाल महाराज ने जिलाधिकारी से कहा कि जिस विभागाध्यक्ष द्वारा बजट पूर्ण खर्च नहीं किया जायेगा उसको प्रतिकूल प्रविष्ठि देना सुनिश्चित करें।

बैठक में स्थानीय विधायकों ने कार्य में शिथिलता और लापरवाही के लिए जब लोक निर्माण विभाग के अधिकारियों की शिकायत की तो कैबिनेट मंत्री महाराज ने लोक निर्माण विभाग के अधिकारियों की जमकर क्लास लेते हुए फटकार लगाई। उन्होने लोनिवि अधिकारियों से जल्द ही अधूरी पड़ी सड़कों के निर्माण कार्यो में तेजी लाने के सख्त निर्देश दिए।

उन्होने कहा कि जनपद में जो कोविड-19 संक्रमण की रोक-थाम, टीकाकरण व विकास कार्य किये जा रहे हैं वह सराहनीय है, लेकिन इससे भी और अधिक मेहनत से कार्य करने की जरूरत है।

यह भी पढ़े :  आने वाले समय में संपूर्ण उत्तराखंड रेल मार्ग के नेटवर्क से जुड़ेगा ,धन्यवाद बलूनी जी , पीएम मोदी जी ,पूरी ख़बर पढें

प्रभारी मंत्री ने जिलाधिकारी को कहा कि एनएच, एनएचएआई व लोनिवि द्वारा किये जा रहे कार्यो की माॅनिट्रिंग करते हुये उनकी समीक्षा भी करें। उन्होने लोनिवि के अधिकारियों को निर्देश दिये कि निर्माण कार्यो की सूची शीघ्र उपलब्ध करायें व जो अधूरे कार्य हैं उसे शीघ्र पूर्ण करें व प्रस्ताव बनाने से पहले कार्यो का भली भांति परीक्षण कर ले तभी शासन को प्रस्तुत करें। उन्होने चेतावनी देते हुये कहा कि कार्य प्रणाली में सुधारात्मक रवैया अपनाये नहीं तो प्रतिकुल प्रविष्ठि अमल में लायी जायेगी।

उन्होने कहा कि अधिकारी निर्माण कार्यो का समय-समय पर निरीक्षण भी करें ताकि कार्यो में गुणवत्ता व पारदर्शिता बनी रहे। महाराज ने कहा कि सरकार की मंशा है कि विकास योजनाओं का लाभ अधिक से अधिक लोगों को मिल सकें। उन्होने जनपद में कोविड-19 संक्रमण की रोक-थाम के लिये टेस्टिंग/सैम्पलिंग बढाने व संक्रमित व्यक्ति को तत्काल उचित उपचार मुहैया कराने के भी निर्देश सम्बन्धित अधिकारी को दिये।

उन्होने मुख्य चिकित्साधिकारी डा0 डीएस पंचपाल को निर्देश दिये कि आशा, आंगनबाडी, एएनएम को आॅक्सोमीटर, थर्मामीटरी, मास्क, सैनेटाईजर आदि उपलब्ध करायें ताकि दूरस्थ क्षेत्रों में लोगों की जांच भली भांति हो सकें। उन्होने कहा कि टैस्टिंग, वैक्सीनेशन की इस तरह से प्लानिंग करें कि आम आदमी को सरलता से इसका लाभ मिल सकें। जनपद के प्रभारी मंत्री सतपाल महाराज ने समीक्षा के दौरान कहा कि कोरानो संक्रमण के दौरान आम जनता द्वारा यह भी शिकायतें आयी हैं कि कतिपय निजी अस्पतालों द्वारा ईलाज के एवज में अधिक धनराशि ली जा रही थी। उन्होने कहा कि इन मामलों को गम्भीरता को देखते हुये सम्बन्धित अधिकारियों को कड़ी फटकार लगाते हुये शीघ्र कार्यवाही करने के निर्देश दिये। उन्होने जनपद में अवैध खनन पर भी रोक लगाने के निर्देश सम्बन्धित अधिकारियों को दिये। उन्होने जिला पूर्ति अधिकारी को निर्देश दिये कि जिन लाभार्थियों के राशन कार्ड आनलाईन नहीं हुये हैं उन्हे भी राशन देने की प्रक्रिया शीघ्र सुनिश्चित करें व उनकी सूची शासन को उपलब्ध करायें। इस विषय में उन्होने सचिव खाद्य से फोन पर वार्ता भी की।

यह भी पढ़े :  उत्तराखंड के मंत्री सतपाल महाराज ने आज एम्स जाकर क्या किया पूरी ख़बर ....

उन्होने सम्बन्धित अधिकारियों को निर्देश दिये कि जो लोग ठेली, फड लगाकर अपना गुजर-बसर करते हैं उन लोगों को स्थाई जगह चिन्हित कर आवश्यक कार्यवाही करें। जिले के प्रभारी मंत्री सतपाल महाराज ने कहा कि आधुनिक पंद्धति के आधार पर कृषि को बढावा दिया जाये व मार्केट की मांग के अनुसार कृषि की जाये जिससे की लोगों को अधिक से अधिक लाभ मिल सकें व उनका जीवन स्तर उपर उठ सकें।

श महाराज ने कहा कि सम्बन्धित विभाग प्रिन्ट, इलैक्ट्राॅनिक, सोशल मीडिया के माध्यम से विकास योजनाओं का अधिक से अधिक प्रचार-प्रसार करें ताकि अधिक से अधिक लोगों को योजनाओं का लाभ मिल सकें। उन्होने वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक को निर्देश दिये कि जनपद में बढते हुये नशे के ग्राफ को रोकने के लिये गोपनीय तरीके से छापामारी करते हुये आवश्यक कार्यवाही कराना सुनिश्चित करें।

यूट्यूब चैनल सब्सक्राइब करें

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here