जान हथेली पर रख ड्यूटी कर रहे लोगों को महीनों से वेतन न मिलना सिस्टम व समाज के लिए शर्मनाक – धस्माना

हमारे व्हॉट्सपप् ग्रुप से जुड़िये

देहरादून : उत्तराखंड में सरकारी कोविड अस्पतालों , कोविड केयर सेंटरों, काल सेंटरों में अपनी जान जोखिम में डाल कर ड्यूटी करने वाले उपनल कर्मचारियों व पीआरडी जवानों को तीन तीन महीने तक अगर सरकार वेतन नहीं दे रही तो इससे ज्यादा सरकार सिस्टम व समाज के लिए शर्मनाक बात कोई और नहीं हो सकती यह बात मुख्यमंत्री को लिखे अपने पत्र में उत्तराखंड प्रदेश कांग्रेस कमेटी के उपाध्यक्ष सूर्यकांत धस्माना ने कही।

धस्माना ने मुख्यमंत्री तीरथ सिंह रावत को आज पत्र भेज कर इस बात पर अफसोस जाहिर किया कि राज्य सरकार के सभी जिम्मेदार जिनमें विभागीय मंत्री विभागीय सचिव शामिल हैं सभी जानते हैं कि उपनल के लगभग पांच से छह हजार कर्मियों को पिछले तीन महीनों से वेतन नहीं मिला जिसके लिए वे लगातार सरकार के मंत्रियों से व विभाग के सचिव व उपनल के एमडी से गुहार लगाते आ रहे हैं किंतु उनको आश्वासन के सिवा कीच नहीं मिला और आज उनकी स्थिति भूख से मरने की आ गयी है।

इसी प्रकार पीआरडी के हजारों जवानों की है जो कोविड ड्यूटी कर रहे हैं लेकिन उनको भी किसी को तीन महीनों से और अधिकांश को दो महीनों का वेतन नहीं मिला ।  धस्माना ने मुख्यमंत्री को लिखा कि उपनल कर्मचारियों को तो स्वयं सैनिक कल्याण मंत्री व वन मंत्री आश्वासन दे कर आये थे किंतु अभी तक कुछ नहीं हुआ।

धस्माना ने मुख्यमंत्री से मांग की कि तत्काल इन उपनल कर्मचारियों व पीआरडी जवानों का रुका हुआ वेतन अवमुक्त करवाएं व भविष्य के लिए ऐसी व्यवस्था करवाएं की हर माह समय पर उनका वेतन भुगतान हो।

यूट्यूब चैनल सब्सक्राइब करें

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here