तीरथ सरकार ने पर्यटन कारोबारियों के लिए लिया बड़ा फैसला 49 हज़ार से अधिक कर्मचारियों को सौगात

हमारे व्हॉट्सपप् ग्रुप से जुड़िये

तीरथ सरकार ने पर्यटन कारोबारियों के लिए लिया बड़ा फैसला 45 हज़ार से अधिक कर्मचारियों को सौगात

 

उत्तराखंड में पर्यटन कारोबार से जुड़े हुए 50 हजार कर्मचारियों को सरकार ने आर्थिक राहत की ऑक्सीजन दी है। उन्हें 2500 रुपये प्रति माह के हिसाब से दो माह की पांच-पांच हजार रुपये की मदद दी जाएगी।
बता दे कि कोरोना की पहली लहर में प्रदेश के 37,870 कार्मिकों को आर्थिक मदद दी गई थी। इस बार 50 हजार कार्मिकों को पांच-पांच हजार रुपये की मदद दी जाएगी। इसी प्रकार सरकार प्रदेश में पंजीकृत 352 टूर ऑपरेटरों को सरकार दस-दस हजार रुपये की मदद देगी।

एडवेंचर टूर ऑपरेटरों की परेशानी को भी सरकार ने समझा। कैबिनेट ने तय किया है कि प्रदेश में पंजीकृत 303 एडवेंचर टूर ऑपरेटरों को दस-दस हजार रुपये की मदद दी जाएगी। वीर चंद्र सिंह गढ़वाली पर्यटन स्वरोजगार योजना और दीन दयाल होम स्टे योजना के तहत प्रथम तीन माह के ऋण पर लिए जाने वाले ब्याज की प्रतिपूर्ति सरकार की ओर से की जाएगी। प्रदेश के 631 राफ्टिंग गाइडों को दस हजार रुपये प्रति गाइड के हिसाब से आर्थिक मदद दी जाएगी। यह सभी मदद इनके खातों में सीधे ट्रांसफर की जाएगी।

कैबिनेट की बैठक में तय किया गया कि पर्यटन एवं यात्रा व्यवसाय नियमावली के अंतर्गत पंजीकरण एवं लाइसेंस नवीनीकरण शुल्क में छूट प्रदान की जाएगी। गत वर्ष पंजीकृत 600 इकाईयों के आधार पर यह फैसला लिया गया है। इसी प्रकार, प्रदेश में पंजीकृत 301 राफ्टिंग एवं एयरो स्पोर्ट्स सेवा प्रदाताओं को यूटीडीबी और वन विभाग की ओर से लिए जाने वाले लाइसेंस नवीनीकरण शुल्क में छूट प्रदान करने का फैसला लिया गया है। यह सभी मदद मुख्यमंत्री राहत कोष से प्रदान की जाएंगी।

यूट्यूब चैनल सब्सक्राइब करें

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here