*पूर्व सीएम त्रिवेन्द्र सिंह रावत के आग्रह को केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी ने किया स्वीकार*

*सामरिक दृष्टि से अति महत्वपूर्ण इन तीन राष्ट्रीय राजमार्गों को चौड़ीकरण , 2LANE WITH PAVED SHOULDER सहित किया जा रहा है*

*चारधाम यात्रा पर आने वाले श्रद्धालुओं की सुगमता और सुरक्षा की दृष्टिगत महत्वपूर्ण कदम*

पूर्व सीएम त्रिवेन्द्र सिंह रावत ने अपने मुख्यमंत्री काल में केंद्रीय सड़क परिवहन मंत्री नितिन गडकरी से मिलकर चारधाम ऑल वेदर मार्ग के सम्बंध में चर्चा की थी। पूर्व सीएम त्रिवेन्द्र ने लगभग ₹15000 करोड़ की लागत से निर्मित इस मार्ग निर्माण कार्य की उच्च गुणवत्ता और वो भी त्वरित गति में किये जाने के लिये केंद्रीय मंत्री का आभार व्यक्त किया था। साथ ही चर्चा में ये विषय भी आया था कि ये मार्ग देश की सीमाओं तक भी जाते हैं। सामरिक दृष्टि से इनका बहुत महत्व है। अतः गुणवत्ता से किसी भी प्रकार समझौता नहीं किया जाना चाहिये। इसी सन्दर्भ में पूर्व सीएम त्रिवेन्द्र सिंह रावत ने केंद्रीय मंत्री को पत्र लिखकर आग्रह किया था की सड़क परियोजना चारधाम सड़क मार्ग (ऑल वेदर रोड) के अंतर्गत आने वाले तीन राष्ट्रीय राजमार्गों जिनमें ऋषिकेश-से-माना, ऋषिकेश-से-गंगोत्री, टनकपुर-से-पिथौरागढ़ के चौड़ीकरण 2LANE WITH PAVED SHOULDER के रूप में निर्मित/ विकसित किया जाए इससे पैदल यात्रियों, दुपहिया वाहनों आदि को सुविधा तो होगी, साथ ही रिसने वाले पानी से मार्ग की सुरक्षा भी हो सकेगी।

यह भी पढ़े :  उत्तराखंड में त्रिवेंद्र सिंह रावत के कार्यालय में जश्न का माहौल, मिठाइयां बांट रहे हैं समर्थक... क्या फिर सीएम बन रहे त्रिवेंद्र..

इस पर संज्ञान लेते हुए केंद्रीय मंत्री ने हालही में पत्र द्वारा पूर्व सीएम त्रिवेन्द्र को सूचित किया है कि लगभग 750 किमी लंबे ये तीनों मार्गों का चौड़ीकरण , 2LANE WITH PAVED SHOULDER सहित किया जा रहा है। जिस तरह चारधाम यात्रा में अप्रत्याशित रूप से श्रद्धालु बढ़ रहे हैं, ऐसे में उनकी सुगमता और सुरक्षा की दृष्टि से यह बहुत महत्वपूर्ण योगदान है। पूर्व मुख्यमंत्री त्रिवेन्द्र ने प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी और केंद्रीय मंत्री   नितिन गडकरी का आभार व्यक्त किया है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here