देहरादून /मसूरी से ख़बर : बस हादसा, छात्र सहित टीचर घायल
प्रशासन सहित पुलिस जुटी घटना की जांच में

 

मसूरी देहरादून मार्ग पद्मिनी निवास के पास एक प्राइवेट बस अनियंत्रित होकर एक सड़क से दूसरी सड़क पर जा गिरी। वही, उसकी चपेट में एक कार भी आ गई। बस में सवार 30 छात्र और 3 शिक्षक सहित बस का कंडेक्टर और ड्राइवर था।
जिसमें से 2 शिक्षक और 5 छात्र घायल हो गए। 
स्थानीय लोगों और पुलिस की मदद से सभी लोगों को बस से रेस्क्यू कर किया गया वहीं घायलों को 108 एंबुलेंस के माध्यम से उप जिला चिकित्सालय ले जाया गया। मौके पर मौजूद लोगों ने बताया कि बस के गिरने के तुरंत बाद सभी लोग घटनास्थल पहुंचे तो देखा कि बस एक सड़क से दूसरी सड़क पर जा गिरी है।
जिसमें फसे बच्चे चिल्ला रहे हैं जिसके बाद बसों के शीशे तोड़कर बस में फसे लोगो को रेस्क्यू किया गया। घटना की सूचना मिलते ही एसडीएम मसूरी नरेश चंद्र दुर्गापाल द्वारा सभी छात्रों का हालचाल जाना वह छात्रों और शिक्षकों के खाने रहने की व्यवस्था की गई वही घायलों केा हाल चाल जाना। एसडीएम मसूरी नरेश चंद्र दुर्गापाल ने कहा कि घटना काफी बड़ी हो सकती थी पर गनीमत रही कि बस एक सड़क से दूसरी सड़क के पैराफिट पर जाकर टकरा के रुक गई। उन्होंने कहा कि पूरी घटना में 7 लोग घायल हुए हैं जिसमें से 5 छात्रों 2 शिक्षक हैं जिनका इलाज मसूरी को जिला चिकित्सालय में किया जा रहा है।

यह भी पढ़े :  त्रिवेंद्र सरकार पहुचीं सुप्रीम कोर्ट हाईकोर्ट के आदेश को दी चुनौती, पूरा मामला प्रमोशन में आरक्षण का

वही, दो लोगों को देहरादून हायर सेंटर रेफर किया गया है उन्होंने कहा कि बाकी बच्चों के रहने खाने की व्यवस्था प्रशासन द्वारा की जा रही है बस लेकर भी कई सवाल खड़े हो रहे हैं ऐसे में हुए घटना की रिपोर्ट तैयार करके जिलाधिकारी को सौंपी जाएगी और हो सके तो पूरे घटना की मजिस्ट्रियल जांच भी कराई जा सकती है और अगर बस संचालको की लापरवाही मिली तो उनके खिलाफ कार्यवाही की जायेगी। मसूरी पुलिस एसआई सुमेर सिंह ने बताया कि घटना की सूचना मिलते ही पुलिस मौके पर पहुंची और स्थानीय लोगों के साथ में करीब 7 लोग बाहर गए थे जिनको 108 एंबुलेंस के माध्यम से अस्पताल भिजवाया गया।
सभी लोग सुरक्षित हैं घटना की जांच की जा रही है घटना में घायल प्रणव कुमार राठी उम्र 20, वारिशा उम्र 21,मनोज जैन 21, स्मृति माथुर 19, आर्यमन 20, आर्यन शर्मा 20, संगीता अग्रवाल उम्र 50 साल घायल हो गए जिसमें से संगीता अग्रवाल और प्रणव कुमार को देहरादून हायर सेंटर रेफर कर दिया । उन्होने कहा कि सभी लोग मुजफ्फरनगर के रहने वाले हैं।वह एसजी इंजीनियरिंग कालेज में पढते है।स्कूल के शिक्षक डा. तोप सिंह जी पुंडीर ने बताया कि छात्रों ने मसूरी भ्रमण के लिए एसी बस बुक कराई थी परन्तु अचानक एसी बस में कुछ तकनीकी दिक्कतें आने के कारण दूसरी बस बाहदराबाद से भेजी गई थी।
लेकिन बस काफी पुरानी और खस्ताहाल की जिसको लेकर छात्रों और उनके द्वारा भी एतराज किया गया था। उन्होंने कहा कि मसूरी और कैम्पटी घूमने के बाद करीब 9 बजे सभी लोग वापस जाने के लिये तैयार हुए जिसमें से 5 छात्रों को छोड़कर सभी बच्चे और शिक्षक बस में बैठ गए और वह स्वंय सडक पर खडे होकर अन्य बच्चों का इंतजार करने लगा। ऐसे में जाम लगने के कारण बस चालक चौडी जगह पर बस को पार्क करने के लिये चला ही था कि 200 मीटर आगे जाकर बस अनियंत्रित होकर एक सड़क से दूसरी सड़क पर पलट गई जिससे दो शिक्षक और पांच बच्चे घायल हो गए। उन्होंने कहा कि घटना की सूचना स्कूल प्रबंधन को दे दी गई है उन सभी बच्चे सुरक्षित है
मसूरी उप जिला चिकित्सालय के डॉ खजान सिंह चौहान ने कहा कि अस्पताल में 2 शिक्षक और 5 छात्रों को लाया गया था जिसमें से एक शिक्षक और एक छात्र की गंभीर चोट लगी है जिनको देहरादून हायर सेंटर सेट रैफर किया जा रहा है वहीं 5 छात्रों का अस्पताल में ही इलाज किया जा रहा है सभी लोग खतरे से बाहर है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here