खटीमा।

सीएम पुष्कर सिंह धामी के अपने ही गृह क्षेत्र में विधानसभा चुनाव में हार से निराश होकरदर्जनो गांवों के ग्रामीणों ने खुद को जिम्मेदार मानते हुए उप शारदा नहर 22 पुल पर सामूहिक रूप से सांकेतिक जल समाधि ली। इस दौरान बड़ी संख्या में महिला एवं पुरुषों ने मुख्यमंत्री धामी की हार पर प्रायश्चित किया और सीएम धामी के विकास कार्यों पर भरोसा जताया। इस दौरान ग्रामीणों ने अपनी समस्याएं गिनाईं। ग्रामीणों के पूर्व निर्धारित कार्यक्रम से एसडीएम व सीओ की ओर से चाक चौबंद व्यवस्था की गई थी। किसी भी परिस्थिति से निपटने के लिए जल पुलिस के जवान तैनात रहे।

उप शारदा नहर 22 पुल पर सुबह दस बजे गहमागहमी का माहौल रहा। लगभग साढ़े दस बजे तक बड़ी संख्या में मेलाघाट, सिसैया, बंधा, बगुलिया, खेलड़िया, खैरानी, झाउपरसा के ग्रामीण जमा होने लगे। सुरक्षा व्यवस्था के तहत पुलिस प्रशासन के अधिकारी यहां गोताखोरों की टीम के साथ पहुंच गए।


शिवनाथ, चुम्मन, कन्हैया लाल, रमायन, हंसराज मौर्य, बृजु, रमाकांत, इंद्रजीत राम, सजीवन, पुन्ना लाल, पप्पू, विकास, रविंद्र पाल, गुड्डू शाही, शंकर राय, मीना भंडारी, हीरा देवी, पानवती, विद्यावती, रुखिया, शांति देवी, प्रभाती देवी, राखी देवी, लक्ष्मी देवी, सुनहरी, हिमांती देवी, गुड्डी, रेखा, देवकी देवी, राधिका, राजेश्वरी आदि ने सांकेतिक जलसमाधि ली। आयोजक रामायण राम, राम पांडे आदि ने माला पहनाकर सभी का स्वागत किया।
इसके बाद ग्रामीण हाथों में बैनर लेकर पानी में उतर गए। अधिक पानी होने के कारण महिलाएं किनारे पर खड़ी रहीं और पुरुषों ने गले तक पानी में उतरकर समाधि ली।
सांकेतिक जल समाधि लेने वाले ग्रामीणों ने कहा कि वे सीएम धामी की खटीमा से हार का प्रायश्चित करते हैं। उन्हें विश्वास है कि उनकी समस्याएं सिर्फ सीएम धामी ही हल करा सकते हैं। वे जलसमाधि के माध्यम से सीएम धामी का ध्यान आकर्षित कराना चाहते हैं कि उनकी ओर से की गईं घोषणाएं कैसे पूरी होंगी। शारदा सागर डैम के ऊपरी हिस्से में बसे राजस्व ग्राम के साथ ही अन्य तोक जलभराव में डूबे हैं। उनकी फसल बर्बाद हो चुकी हैं लेकिन जलस्तर कम नहीं किया जा रहा है। दोपहर करीब 12 बजे तक ग्रामीण पानी में रहे और फिर सीएम धामी से फोन पर वार्ता कर सामूहिक जल समाधि कार्यक्रम समाप्त कर दिया।

यह भी पढ़े :  मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र रावत ने जिलाधिकारियों को दिए कोविड वेक्सिनेशन की तैयारियां सुनिश्चित करने के निर्देश


खटीमा का विकास चुनाव की हार-जीत को नहीं कर सकता प्रभावित : धामी
खटीमा। सांकेतिक जल समाधि स्थल पर एकत्रित ग्रामीणों से फोन पर बातचीत के दौरान सीएम सीएम पुष्कर सिंह धामी ने कहा कि उनके गृह क्षेत्र के विकास को चुनाव की हार-जीत प्रभावित नहीं कर सकती है। खटीमा के लिए स्वीकृत 300 करोड़ की योजनाएं धरातल पर उतरेंगी। वह खटीमा में पले बढ़े हैं। यहां से उनका चुनाव की हार-जीत का नहीं बल्कि पारिवारिक रिश्ता है। कहा कि यहां नागरिक अस्पताल, बाईपास, खेल स्टेडियम, सौंदर्यीकरण, छठ पूजा स्थल, सीएसडी कैंटीन, स्टेट हाइवे, नमामि गंगे प्रोजेक्ट आदि सभी कार्य पूरे होंगे। उन्होंने कहा कि वह डैम क्षेत्र की समस्या जानते हैं। विधायक रहते यूपी में सपा सरकार होने पर भी कई बार जलस्तर की समस्या को हल कराया। वह शीघ्र यहां आएंगे और उनकी समस्या का समाधान होगा।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here