हमारे व्हॉट्सपप् ग्रुप से जुड़िये

हरदा गए थे कान्हा के दर्शन करने , नाग के दर्शन हो गए

जन्माष्टमी के दिन कांग्रेस के वरिष्ठ नेता और पूर्व मुख्यमंत्री हरीश रावत के साथ एक अजीब वाक्या हो गया हरीश रावत जन्माष्टमी के दिन तमाम मंदिरों में दर्शन करके और तमाम जगह पर कान्हा की विभिन्न झांकियों को देखकर गीता भवन मंदिर में झांकी के दर्शन करने के बाद हरीश रावत जब अपने शहंशाही स्थित आवास की तरफ जा रहे थे तो लगभग 11:00 बजे  घंटाघर के समीप धारा चौकी के पास बोनट पर हरीश रावत को एक सांप दिखाई दिया

आनन-फानन में तमाम गाड़ी में सवार लोग हरीश रावत सहित गाड़ी से उतर गए ओर चौकी इंचार्ज धारा चौकी को इसकी जानकारी दी गई
वन महकमे के कर्मचारियों को भी बुलाया गया लेकिन सांप नहीं मिला
हरीश रावत थोड़ी देर धारा चौकी में भी बैठे लेकिन तब भी साप नहीं मिला
हालांकि हरीश रावत दूसरी गाड़ी में बैठ कर अपने घर आ गए और हरीश रावत की गाड़ी अभी धारा चौकी में खड़ी हुई है लेकिन गाड़ी में रात से लेकर अभी तक किसी ने सांप के दर्शन नहीं हुए
हरीश रावत पुलिस और वन विभाग के कर्मचारियों को यह जरूर कर गए थे की किसी भी हाल में सांप को नहीं मारा जाए कुल मिलाकर रात के समय हरीश रावत और उनके समर्थकों ने किसी भी तरह से कोई खतरा मोल लेना गवारा नहीं समझा और सभी दूसरी गाड़ी से घर पहुंच गए

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here