हरीश रावत के चाहने से कुछ नही होता ये कहने का मतलब है नेता प्रतिपक्ष इंदिरा हृदयेश का

हमारे व्हॉट्सपप् ग्रुप से जुड़िये

उत्तराखंड कांग्रेस को लेकर लगातार बैठकों का दौर जारी है ऐसे में पिछले हफ्ते हुई दिल्ली में कांग्रेस की बैठक के बाद एक और बैठक शनिवार को आयोजित होने जा रही है दिल्ली में जिसमें भाग लेने के लिए उत्तराखंड कांग्रेस के दिग्गज नेता दिल्ली रवाना हो गए हैं बता दे कि हरीश रावत पहले से ही दिल्ली में है वहीं नेता प्रतिपक्ष इंदिरा हृदयेश और प्रीतम सिंह भी दिल्ली कल बैठक के पहले पहुंच जाएंगे।

नेता प्रतिपक्ष इंदिरा हृदयेश का
साल 2022 के विधानसभा चुनाव में कांग्रेस पार्टी में मुख्यमंत्री का चेहरा घोषित किए जाने के हरीश रावत के बयान को लेकर इंदिरा हृदयेश ने फिर दो टूक शब्दों में कहा की कांग्रेस अपनी परंपरागत नीति से काम करेगी जो पार्टी का नियम होगा, उसी आधार पर कांग्रेस पार्टी अपना चेहरा घोषित करेगी। यह किसी के कहने या सुनने या चाहने से कुछ नहीं होगा।

पार्टी आलाकमान जो आदेश देगा पार्टी के हर व्यक्ति को उस आदेश का पालन करना होगा। दिल्ली में कल कांग्रेस की एक बैठक होने जा रही है, जिसमें नेता प्रतिपक्ष भी शामिल होने दिल्ली जा रही हैं। बताया जा रहा है कि 2022 में विधानसभा चुनाव की रणनीति को देखते हुए चर्चा की जा सकती है।चुनाव संचालन की कमान किस नेता को दी जाएगी और पार्टी की रणनीति क्या होगी, इस पर इस बैठक में विचार किया जा सकता है।

यूट्यूब चैनल सब्सक्राइब करें

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here