कोरोना के बढ़ते मामलों के बीच शिक्षा विभाग का स्कूलों को खोलने के समय को लेकर नया आदेश जारी , क्या कोरोना बढ़ाने की मंशा है विभाग की

एक तरफ उत्तराखंड में कोरोना के लगातार मामले बढ़ते जा रहे हैं वहीं दूसरी तरफ शिक्षा विभाग के ऐसे आदेश जारी हो रहे हैं जिससे प्रदेश में कोरोना का खतरा बढ़ना ही बढ़ना है शासन की तरफ से ज्यादा जारी हुए हैं की पहली से लेकर पांचवी क्लास तक 3 घंटे की जगह है पूरे समय कक्षाएं खुलेगी ऐसे में बड़ा सवाल ये उठता है कि जिस तरह से उत्तराखंड के कई स्कूलों में कोरोनावायरस संक्रमण के मामले आ रहे हैं क्या उससे विभाग सबक नहीं ले रहा है हालांकि आदेश में यह भी तय नहीं है कि बच्चे ऑनलाइन कक्षाओं में जाएंगे या फिर ऑफलाइन

यह भी पढ़े :  उत्तराखंड : पहाड़ मै टैंपो-ट्रैवलर खाई मैं गिरा सवार 11 पर्यटक घायल

कोविड-19 के दृष्टिगत राज्य में संचालित समस्त प्राथमिक स्तर के शिक्षण संस्थानों (शासकीय / अशासकीय (सहायता प्राप्त ) / निजी शिक्षण संस्थान) में भौतिक रूप से पठन-पाठन पूर्व निर्धारित समयावधि के अनुसार प्रारम्भ किये जाने के सम्बन्ध में ये आदेश हुए है जिसके तहत

निदेशक प्रारम्भिक शिक्षा उत्तराखण्ड देहरादून के पत्रांक अकादमिक (04) / 9312 / विद्यालय संचालन / 2021-22 दिनांक 27 नवम्बर, 2021 का सन्दर्भ ग्रहण करने का कष्ट करें, जिसमें शासनादेश संख्या 625 / XXIV-A-1 / 2021-14 / 2021 दिनांक 18 सितम्बर, 2021 में उल्लिखित प्रस्तर-17 के अनुसार राज्य में संचालित समस्त प्रारम्भिक स्तर के शिक्षण संस्थानों (शासकीय / अशासकीय सहायता प्राप्त ) / निजी शिक्षण संस्थान) में कक्षा 01 से 05 तक की कक्षाओं को तीन घण्टे के स्थान पर पठन-पाठन / शिक्षण कार्य को पूर्व निर्धारित समयावधि के अनुसार संचालित किये जाने का अनुरोध किया गया है।

यह भी पढ़े :  देहरादून : सेलाकुई पुलिस द्वारा 2 किलो 876 ग्राम अवैध गांजा के साथ दो पुरुष और एक महिला तस्कर को गिरफ्तार किया गया।

उक्त के सम्बन्ध में मुझे यह कहने का निदेश हुआ है कि निदेशक प्रारम्भिक शिक्षा, उत्तराखण्ड के प्रस्ताव के दृष्टिगत सम्यक विचारोपरान्त छात्रहित को देखते हुये राज्य में संचालित समस्त प्रारम्भिक स्तर के शिक्षण संस्थानों (शासकीय / अशासकीय (सहायता प्राप्त ) / निजी शिक्षण संस्थान) में कक्षा 01 से 05 तक की कक्षाओं में पठन-पाठन / शिक्षण कार्य को तीन घण्टे के स्थान पर पूर्व की भाँति निर्धारित समयावधि के अनुसार संचालित किया जायेगा।

 

शासनादेश संख्या 625 / XXIV – A-1 / 2021-14 / 2021 दिनांक 18 सितम्बर, 2021 की शेष शर्ते यथावत रहेंगी। उक्त उल्लिखित शासनादेश को इस सीमा तक संशोधित समझा जाये।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here