चंपावत विधान सभा उपचुनाव में कांग्रेस ने अभी से हार मानी,
मुख्यमंत्री धामी ऐतिहासिक मतों से जीतेंगे

देहरादून 7 मई।

भारतीय जनता पार्टी उत्तराखंड के प्रदेश उपाध्यक्ष डॉ. देवेंद्र भसीन ने कहा कि कांग्रेस के वरिष्ठ नेताओं ने जिस प्रकार चंपावत विधानसभा उपचुनाव में चुनाव लड़ने से हाथ खड़े कर दिए उससे साफ है कि कांग्रेस ने अभी से हार मान ली है ।उन्होंने कहा कि इस उपचुनाव में मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ऐतिहासिक मतों से विजयी होंगे।
आज एक बयान में भाजपा प्रदेश उपाध्यक्ष डॉ. देवेंद्र भसीन ने कहा कि हाल में उत्तराखंड विधानसभा चुनाव में करारी हार के बाद कांग्रेस ने अब चंपावत विधानसभा उप चुनाव में अभी से हार मान ली है। विधानसभा उपचुनाव की घोषणा के बाद कांग्रेस के सभी वरिष्ठ नेता बड़े-बड़े दावे कर रहे थे और उनके द्वारा समितियां भी गठित कर दी गई थीं। लेकिन जिस तरह कांग्रेस के बड़े नेताओं ने इस उपचुनाव में हाथ खड़े कर दिए हैं उससे साफ हो गया है कि कांग्रेस नेताओं को इस चुनाव में भारी पराजय का आभास अभी से हो गया है। यही कारण है कि चंपावत से पिछले चुनाव में प्रत्याशी रहे कांग्रेस नेता सहित अन्य सभी वरिष्ठ नेताओं ने चुनाव लड़ने से कन्नी काट ली है।
उन्होंने कहा कि चंपावत उपचुनाव में मुख्यमंत्री श्री पुष्कर सिंह धामी की विजय प्रारंभ से ही निश्चित है और यह विजय ऐतिहासिक होने वाली है। यह बात कांग्रेस के नेताओं को भी समझ में आ गई है ।
उन्होंने कहा कि श्री पुष्कर सिंह धामी जी की विजय कांग्रेस की कमजोरी पर नहीं बल्कि भारतीय जनता पार्टी सरकार के कार्यों व संगठन के आधार पर होगी। मुख्यमंत्री के रूप में श्री पुष्कर सिंह धामी ने अपने पहले अल्प कार्यकाल में जिस प्रकार से कार्य किए उनकी प्रशंसा सर्वत्र हुई है । उन्होंने वर्तमान में मात्र एक माह के अल्प कार्यकाल में जो निर्णय लिए हैं और कदम उठाए हैं वे भी अभूतपूर्व हैं। भा.ज.पा. उत्तराखंड के विकास के प्रति पूरी तरह है कटिबद्ध है और स्वभाविक तौर पर चंपावत सहित सभी क्षेत्रों के विकास के प्रति भी उसकी प्रतिबद्धता स्पष्ट है। जबकि कांग्रेस ने प्रदेश व देश में केवल भ्रष्टाचार किया, विकास के मार्ग पर अवरोध पैदा किये । इसी के चलते कॉन्ग्रेस उत्तराखंड सहित देश में जनता द्वारा नकारी जा रही है ।
डॉ भसीन ने कहा कि भारतीय जनता पार्टी का आधार लगातार बढ़ रहा है ।चंपावत के पूर्व जिला पंचायत अध्यक्ष श्री बहादुर सिंह पाटनी व अन्य वरिष्ठ नेताओं के भाजपा में शामिल होने से पार्टी की शक्ति और बढ़ी है । दूसरी ओर कॉन्ग्रेस अंतर कलह का शिकार है। इसका ताजा प्रमाण कांग्रेस के वरिष्ठ नेता श्री जोत सिंह बिष्ट द्वारा पार्टी नेतृत्व पर गंभीर आरोप लगाते हुए कांग्रेस छोड़ देना है। उन्होंने कहा कि भारतीय जनता पार्टी मुख्यमंत्री श्री पुष्कर सिंह धामी के नेतृत्व में प्रदेश को देश का अग्रणी राज्य बनाने की दिशा में लगातार कार्य कर रही है और प्रधानमंत्री  नरेंद्र मोदी जी के नेतृत्व में जिनका उत्तराखंड पर विशेष आशीर्वाद है । ये हमारी विजय का आधार हैं। जबकि कांग्रेस का शीर्ष व प्रदेश नेतृत्व सभी स्वार्थ पूर्ण राजनीति करते रहे हैं और कर रहे हैं। इसलिए जनता ने कांग्रेस को नकारा है और चंपावत में एक बार फिर नकारने जा रही है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here