हमारे व्हॉट्सपप् ग्रुप से जुड़िये

उत्तराखंड में बेरोजगारी को लेकर विपक्ष धामी सरकार के खिलाफ मोर्चा खोल रखा है तो वही मुख्यमंत्री धामी उत्तराखंड में 24 हजार नौकरिया युवाओं को देकर विपक्ष के इस बेरोजगारी के मुद्दे की हवा निकालने के काम पर खुद ही जुटे हुए है


मंगर मनमौजी टाइप के अधिकारियों को इससे स्याद कोई सरोकार हो क्योकि उनकी विभागों की हीलाहवाली से दिक्कत आ रही है

मुख्यमंत्री ने खाली पदों को भरने की सरकार ने घोषणा तो कर दी लेकिन उसका होमवर्क अब हो रहा है।
धामी सरकार ने जल्द से जल्द खाली पड़े पदों को भरने के लिए विभागों से खाली पदों का ब्योरा मांगा है। लेकिन कई विभागों ने अभी तक ब्योरा नहीं दिया है। शासन को सभी विभागों को तत्काल दोबारा सूचना भेजने के निर्देश देने पड़े हैं।

यह भी पढ़े :  उत्तराखंड : रविवार स्पेशल : 7 दिन ओर बढ़ेगा उत्तराखंड में कोरोना कर्फ्यू , इन महत्वपूर्ण छूट के साथ!

मुख्यमंत्री ने कमान संभालते ही पहली ही कैबिनेट की बैठक में 22 हजार पदों को भरने की घोषणा की। उन्होंने एलान किया कि पहले चरण में सरकार 13 हजार पदों को तत्काल भरेगी। सूत्रों के मुताबिक, घोषणा के बाद अब सरकार यह पता लगा रही है कि विभागों में सीधी भर्ती, पदोन्नति और बैकलॉग के कितने पद हैं। इनके बारे में सभी विभागों से ब्योरा मांगा गया है। 
मुख्यमंत्री कार्यालय के निर्देश पर कार्मिक विभाग अपर मुख्य सचिवों, प्रमुख सचिवों, सचिवों और प्रभारी सचिवों को निर्देश जारी कर खाली पदों का ब्योरा देने के लिए कहा। लेकिन कुछेक विभागों को छोड़कर अधिकांश विभागों से ब्योरा नहीं आया है। कार्मिक विभाग को दोबारा पत्र भेजकर विभागों से तत्काल सूचना देने को कहा है।

यह भी पढ़े :  पीएम मोदी की तीसरी आंख,निशाने पर उत्तराखंड

मुख्यमंत्री के निर्देश पर ही विभागों से पदों की वर्तमान स्थिति की सूचना मांगी गई है। हालांकि सरकार के पास 24 हजार खाली पदों की जानकारी है, लेकिन वास्तविक संख्या विभागों से ब्योरा प्राप्त होने की बाद ही साफ हो सकेगी। विभागों से सूचना मिलने के बाद मुख्यमंत्री इसकी समीक्षा करेंगे और इन्हें भरने की प्रक्रिया जल्द शुरू करने के निर्देश जारी करेंगे।

यूट्यूब चैनल सब्सक्राइब करें

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here