*बजरंग दल देहरादून के द्वारा हिंदू आस्थाओं पर लगातार कुठाराघात करने वाले घिनौने लोगों के खिलाफ शहर कोतवाली में मुकदमा पंजीकृत कराया और लीना मणिमेकलाई के पोस्टर जलाए गए*

*वामपंथी मानसिकता से ग्रसित हिन्दू देवी देवताओ को लेकर गलत ढंग से डॉक्यूमेंट्री बनाने वाली लीना मणिमेकलाई की डाक्यूमेंट्री हिन्दु धर्म की देवी माँ काली  को सिगरेट पीते हुए दिखाया गया है*। इसमें देवी का पोशाक पहनी एक महिला धूमपान कर रही है। बैकग्राउंड में समलैंगिक समुदाय का झंडा लगा है।इस विवादित पोस्टर में माँ काली के चार भुजाओं के प्रतिरूप में एक महिला को दिखाया गया है। माथे पर तिलक लगा हुआ है और हाथों में त्रिशूल व अन्य अस्त्र हैं। वहीं एक हाथ में सिगरेट है जो मुँह से लगी हुई है। वहीं दूसरे हाथ में LGBTQ का झंडा है।
यह एक अत्यंत विनोना और हिंदू समाज के महान मूल्यों पर लगातार एक बड़ा प्रहार है जबकि नबी की शान की गुस्ताखी को लेकर कट्टरपंथी मुस्लिम समाज सड़कों पर लोगों की हत्याएं कर रहा है और हिंदू ईश्वरीय देवताओं को पैसा कमाने का जरिया समझ बुरी तरह अपमानित किया जा रहा है और बजरंग दल इस नीचता को किसी हाल में नहीं सहेगा और अगर यह डॉक्यूमेंट्री ओटीटी व डिजिटल प्लेटफॉर्म पर रिलीज हुई तो इसका जोरदार विरोध सड़कों पर होगा क्योंकि हिंदू समाज का धैर्य इस विषय के आक्रोश में समाप्त हो सकता है जो उसके मान बिंदुओ को बुरी तरह कुचला जा रहा है। वह इसका प्रतिकार अवश्य देंगे इसलिए इस डॉक्यूमेंट्री के लीगल कंटेंट किसी भी प्लेटफार्म पर प्रसारित ना हो व साथ ही केंद्र सरकार द्वारा सूचना प्रसारण मंत्रालय ,सेंसर बोर्ड द्वारा इस डॉक्यूमेंट्री के अन्दर अश्लील व भड़काऊ दृश्य सील किए जाए किया जाए
हिंदू देवी देवताओं का अपमान ईश्वरीय आस्था पर सुनियोजित ढंग से बड़ा प्रहार हो रहा है। संगठन द्वारा इस डॉक्यूमटरी में एसोसिएट प्रोडूसर और मेकअप आशा पोन्नाचन द्वारा, एडिटिंग श्रवण द्वारा, कैमरा फ़ातिन चौधरी व ऋषभ कालरा द्वारा, ऑडियोग्राफ़ी तपस नायक द्वारा, इमेज ग्रेडिंग राजा रंजन द्वारा किया गया है। विवादित डाक्यूमेंट्री बनाने में में तमिल आर्ट कलेक्टिव और क्वीन समर इंस्टिट्यूट सभी पर गंभीर धाराओं में मुकदमा पंजीकृत कराने के लिए तहरीर दी गई जिसमें अध्यक्ष दर्शन लाल भम्म, सह संयोजक आशीष, विहिप उपाध्यक्ष संजीव बालियान, खंड मंत्री विशाल चौधरी महानगर सह मंत्री श्याम शर्मा विभाग अधिकारी,गौ रक्षा नरेंद्र चौहान , संदीप वाधवा,विजय गुप्ता,सन्नी सोनकर,मदन पंवार, आशीष गौतम ,प्रभात वर्मा, अर्नव , शुभम चौहान व अन्य रहे ।

यह भी पढ़े :  जन जागरूकता अभियान में और तेजी लाई जाये : त्रिवेंद्र

सेवा में
श्रीमान कोतवाली प्रभारी
शहर कोतवाली देहरादून

विषय:- जानबूझकर फ़िल्म के माध्यम से धार्मिक भावना एंव समाजिक सौहार्द बिगाड़ने के सम्बंध में शिकायत पत्र!

महोदय,
निवेदन इस प्रकार है कि सोशल मीडिया के माध्यम से प्रार्थीगण को ज्ञात हुआ है कि फिल्मकार ने हिंदुओ कि आराध्य माँ काली के नाम से एंव चित्र को आधार बनाकर एक फिल्मी पोस्टर रिलीज किया है ,जिसमे हमारी आराध्य देवी माँ काली को धूम्रपान करते हुए दिखाया गया है जो देखने में बहुत भद्दा ओर अपमानजनक है जिससे ऐसा प्रतीत होता है कि फिल्मकारों ने जानबूझकर हिंदुओ कि आराध्य देवी माँ काली के दिव्य स्वरूप का अपमान किया है !जिससे हम प्रार्थीगणों एंव समस्त हिन्दू समाज कि धार्मिक भावनाएं आहत हुई है जिससे हमे भय है कि इससे सामाजिक सौहार्द बिगड सकता है जो देश कि वर्तमान स्थिति को देखते हुए राष्ट्र कि अखण्डता को अस्थिर  कर सकता है!

यह भी पढ़े :  सुना है उत्तराखंड में : काउंसिलिंग संबंधित कार्य जल्द नहीं हुआ तो सोमवार से अपना धरना और उग्र करेगा डायट डीएलएड संघ।

अतः श्रीमान जी से प्रार्थना है कि उक्त विषय को अपने संज्ञान में लेकर फिल्मकारो ,कलाकारों एंव लेखक उक्त सभी लीना मणिमेकलाई, फातिन चौधरी, ऋषभ कालरा, राजा राजन, प्रकाश कन्याकनयकम,
आशा पोन्नाचन,नीद्रा रूद्रिगो,दृशा वारा, के विरुद्ध कठोर से कठोर दण्डात्मक कानूनी कार्यवाही करने कि कृपा करें!

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here