*मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी खटीमा विधानसभा क्षेत्र से ही लड़ेंगे चुनाव*

उत्तराखण्ड का मुख्यमंत्री बनने के छह महीने बाद ही पुष्कर सिंह धामी के सामने विधानसभा चुनाव की बड़ी परीक्षा है। वह खुद ही भाजपा का सीएम पद का चेहरा हैं। ऐसे में उनके कंधे पर पूरे सूबे में भाजपा को चुनाव जिताने की भी जिम्मेदारी है। उनके सीएम बनने के बाद उनका खटीमा विधानसभा क्षेत्र वीआईपी सीट में शामिल हो चुका है
अब इस सीट पर जीत ही नहीं बल्कि लोग अब उनसे बड़ी जीत की उम्मीद लगाए हैं
सबसे खास बात ये है कि खटीमा विधानसभा क्षेत्र में जिले में सबसे कम वोटर हैं और यहां से खुद सीएम पुष्कर सिंह धामी भाजपा के प्रत्याशी बनने के बाद यहां सबसे बड़ी चुनावी लड़ाई देखी जानी है
मुख्यमंत्री से यहां उनके प्रतिद्वंद्वी के रूप में कांग्रेस के कार्यकारी प्रदेश अध्यक्ष भुवन कापड़ी का मैदान में उतरना लगभग तय है

यह भी पढ़े :  हरिद्वार:में नहीं कर सकेंगे हर की पैड़ी पर गंगा स्नान, मकर सक्रांति पर लगा प्रतिबंध

साल 2012 और 2017 में यहां से मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने जीत भी हासिल की थी

वहीं वोटरों के लिहाज से देखा जाए तो जिले में सबसे कम वोटर वाले विस क्षेत्र के होने से चलते यहां मुकाबला हमेशा नजदीकी रहा है। ऐसे में यहां हर एक वोट के लिए संघर्ष होता दिखा है। खटीमा विस क्षेत्र में मतदाताओं की संख्या 1,19,980 है

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here