एसजीआरआर मेडिकल कॉलेज पीजी

सुपरस्पेशलिटी सीटों में उत्तराखण्ड में सिरमौर

कॉलेज की पीजी सीटें 94 से बढ़कर 109 हुई

उत्तराखण्ड के 5 सरकारी व प्राईवेट मेडिकल कॉलेजों में सर्वाधिक
सुपरस्पेशलिटी पीजी सीटों वाला एसजीआरआर एकमात्र मेडिकल कॉलेज

कॉर्डियोलॉजी, मेडिकल गैस्ट्रोइंट्रोलॉजी, प्लास्टिक सर्जरी में 2-2 पीजी सीट्स

 

यूरोलॉजी में 1 पीजी सीट मिली

देहरादून

श्री गुरु राम राय इंस्टीट्यूट ऑफ मेडिकल एण्ड हेल्थ साइंसेज (एसजीआरआर मेडिकल कॉलेज) की पीजी सीटें मेडिकल काउंसिल ऑफ इण्डिया ने 94 से बढ़ाकर 109 कर दी हैं।
एसजीआरआर मेडिकल कॉलेज एक बार फिर एनएमसी की हर कसौटी पर खरा उतरा है।
नेशनल मेडिकल कमीशन (एनएमसी) की ओर से श्री गुरु राम राय इंस्टीट्यूट ऑफ मेडिकल एण्ड हेल्थ साइंसेज़ को पत्र भेजकर सीट बढ़ोत्तरी की सूचना दी है।
मेडिकल की पीजी सीटों में सर्वाधिक पीजी सीटें प्राप्त करने वाला एसजीआरआर मेडिकल कॉलेज उत्तराखण्ड का नम्बर एक कॉलेज है।

श्री गुरु राम राय इंस्टीट्यूट ऑफ मेडिकल एण्ड हेल्थ साइंसेज़ के चेयरमैन श्रीमहंत देवेन्द्र दास जी महाराज ने मेडिकल कॉलेज के प्राचार्य, सभी फैकल्टी सदस्यों, स्टाफ सदस्यों व छात्र-छात्राओं को इसके लिए बधाई दी है।
उन्होंने सभी कर्मचारियों का आह्वाहन किया कि उत्तराखण्ड के दूरस्थ क्षेत्रों तक बेहतर से बेहतर स्वास्थ्य सुविधाएं पहुंचाने के लिए निरंतर प्रयासरत रहें।
उन्होंने सभी डॉक्टरों व स्टाफ का आह्वाहन किया कि वे संकल्प को पुनः दोहराएं और सेवा भाव की इस यात्रा को शिखर तक पहुंचाने में अपना सहयोग जारी रखें।

यह भी पढ़े :  मत कहना बताया नही था: आज दून में आंधी-तूफान के आसार , तीन दिन भारी बारिश और ओला  का अलर्ट,  यहा यहा

काबिलेगौर है कि मेडिकल कांउसिल ऑफ इण्डिया द्वारा समय समय पर मेडिकल कॉलेजों की स्नातक व पीजी सीटों को लेकर इंस्पैक्शन (निरीक्षण) किया जाता है।
इस सम्बन्ध में सितम्बर से नवम्बर 2021 के बीच नेशनल मेडिकल कमीशन (एनएमसी) की टीम ने एसजीआरआर मेडिकल कॉलेज का इंस्पैक्शन (निरीक्षण) किया।
इंस्पैक्शन के दौरान मेडिकल कॉलेज की मूलभूत सुविधाएं, क्लीनिक शिक्षण सामग्री, तकनीकी सुविधाएं, फैकल्टी सदस्यों की पर्याप्त संख्या, फैकल्टी द्वारा राष्ट्रीय व अन्तर्राष्ट्रीय स्तर पर प्रस्तुत किए गए शोध कार्यों का मूल्यांकन किया जाता है।
मेडिकल कॉलेज को सम्बन्धित मापदण्डों पर खरा पाए जाने के बाद ही नेशनल मेडिकल कमीशन (एनएमसी) व मेडिकल काउंसिल ऑफ इण्डिया (एमसीआई) की ओर से सीट बढ़ोत्तरी की मंजूरी प्रदान करती है।
यह समाचार उत्तराखण्ड के आम जनमानस के लिए भी बेहद सुखद है व मेडिकल छात्र-छात्राओं के लिए सुनहरा अवसर है।
एसजीआरआर मेडिकल कॉलेज में पीजी सीटों के बढ़ने का सीधा सीधा लाभ आम जनमानस को मिलेगा।
इससे मेडिकल शिक्षा व स्वास्थ्य सेवा के प्रसार को नई सम्भावनाएं मिलेंगी। राज्य को अधिक डॉक्टर मिलेंगे व आम जनमानस को बेहतर स्वास्थ्य सुविधाएं मिलेंगी।
काबिलेगौर है कि हाल ही में देश की नामचीन पत्रिका इण्डिया टुडे ने मेडिकल कॉलेजों पर एक सर्वे किया था। इस सर्वे में श्री महंत इन्दिरेश अस्पताल (एस.जी.आर.आर.) एवम् श्री गुरु राम राय इंस्टीट्यूट ऑफ मेडिकल एण्ड हेल्थ साइंसेज को उत्तर भारत के नामचीन मेडिकल कॉलेजों की सूची में छठवां स्थान प्राप्त हुआ।

यह भी पढ़े :  ग्लैमर दुनिया को छोड पहाड़ की बेटी अनुकृति गुसाई कर रही है वो काम कि महामहिम राज्यपाल जी सहित मंत्री हरक सिंह रावत बोले आप बधाई के पात्र है।

श्री गुरु राम राय इंस्टीट्यूट ऑफ मेडिकल एण्ड हेल्थ साइंसेज़ में सुपरस्पेशलिटी पीजी सीटें प्राप्त हुई हैं। डीएम कॉर्डियोलॉजी में 2 सीट, मेडिकल गैस्ट्रोइंट्रोलॉजी में 2 सीट, प्लास्टिक सर्जरी में 2 सीट व यूरोलॉजी एमसीएच में 1 सीट प्राप्त हुई है।
काबिलेगौर है कि इससे एसजीआरआर मेडिकल कॉलेज को न्यूरो सर्जरी एमसीएच में 1 सीट पहले से ही प्राप्त है है।
उत्तरखण्ड में हिमालयन मेडिकल कॉलेज, दून मेडिकल कॉलेज, वीर चन्द्र सिंह गढ़वाली राजकीय मेडिकल कॉलेज व राजकीय मेडिकल कॉलेज हल्द्वानी संचालित हैं। एसजीआरआर मेडिकल कॉलेज में सुपरस्पेशलिटी डीएम/एमसीएच में सर्वाधिक 8 सीटें हैं

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here