खटीमा से बड़ी ख़बर : खटीमा क्षेत्र के पांच गांवों के ग्रामीण मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी की हार का प्रायश्चित करने के लिए सात मई को सांकेतिक जल समाधि लेंगे

उत्तराखंड के उधमसिंह नगर जिले के खटीमा क्षेत्र के पांच गांवों के ग्रामीण मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी की हार का प्रायश्चित करने के लिए सात मई को सांकेतिक जल समाधि लेंगे। उन्होंने मंगलवार को एसडीएम खटीमा को एक ज्ञापन सौंपा है। “हम अपने क्षेत्र से सीएम पुष्कर सिंह धामी की हार का प्रायश्चित कर रहे हैं।

हम शनिवार को शारदा नहर में मां गंगा को साक्षी मानकर सांकेतिक जल समाधि लेंगे। इसमें 18 वर्ष से अधिक आयु के ग्रामीण भाग लेंगे। ” मेलाघाट के • ग्रामीण नारायण राम पिछली विधानसभा में खटीमा सीट से धामी को कांग्रेस उम्मीदवार भुवन कापड़ी ने 6579 मतों के अंतर से हराया था।

अब वह चंपावत निर्वाचन क्षेत्र से उपचुनाव लड़ रहे हैं जो नवनिर्वाचित विधायक कैलाश गहटोरी के इस्तीफे के बाद खाली हो गया था। उपचुनाव 31 मई को होना है। मेलाघाट, बंधा, सिसियां, बगुलिया, खेलेरदिया के ग्रामीणों ने मंगलवार को एसडीएम रवींद्र सिंह बिष्ट को ज्ञापन सौंपा। ज्ञापन में कहा है कि वे वंचित समुदायों से आते हैं और उनके गांव विकास से कोसों दूर हैं।

यह भी पढ़े :  देवभूमि उत्तराखंड आ रही है एनडीए की राष्ट्रपति पद की उम्मीदवार द्रोपदी यह सब कुछ रहेगा खास

ग्रामीणों की मानें तो सीएम धामी ने ग्रामीणों को आश्वासन दिया था कि उनकी हर समस्या का समाधान किया जाएगा। उन्होंने कहा की उन सभी ने दूसरों के बहकावे में न आकर अपने ही समुदाय को नुकसान पहुंचाया है।
गांव वालों का कहना है कि उन्हें सीएम धामी पर पूरा विश्वास है इसलिए उन्होंने शारदा नहर में सांकेतिक जल समाधि लेने का फैसला लिया है।

“हम नहर में उतरेंगे और वहां 2-3 घंटे तक गहरे पानी में खड़े रहेंगे। हमने अपने कार्यक्रम के बारे में एसडीएम को पहले ही सूचित कर दिया है, ” छोटे लाल राजभर एसडीएम खटीमा रवींद्र सिंह बिष्ट ने कहा कि पांच गांवों के ग्रामीणों ने उन्हें प्रायश्चित के लिए जल समाधि लेने के लिए एक ज्ञापन सौंपा। मैंने पुलिस को निर्देशित किया है कि सुरक्षा के पुख्ता इंतजाम किए जाएं।

यह भी पढ़े :  बाबा केदारनाथ भगवान की पंचमुखी डोली सादगीपूर्वक केदारनाथ धाम को प्रस्थान हुई। जय केदार

“मैं आज (बुधवार) सुबह ग्रामीणों से मिलने गया और उन्हें कार्यक्रम छोड़ने के लिए कहा।
कहा कि किसी भी अप्रिय घटना से बचने के लिए मौके पर पुलिस तैनात की जाएगी ” ये कहा  एसडीएम बिष्ट ने 

इन गांवों के ग्रामीण हमारी पार्टी के समर्थक हैं और उन्होंने पिछले चुनाव में हमारी पार्टी का समर्थन किया था।
वे ऐसा कदम क्यों उठा रहे हैं? इस पर मिलकर बात करेंगे”, “खटीमा में कांग्रेस की ब्लॉक कमेटी के अध्यक्ष बॉबी राठौर ने ये बात कही

वही मंडी समिति के अध्यक्ष और भाजपा कार्यकर्ता नंदन सिंह खरायत ने कहा, “अगर वे अपने फैसले के लिए पछता रहे हैं और सीएम का समर्थन करना चाहते हैं तो यह हमारी पार्टी के लिए एक अच्छा संकेत है। कांग्रेस ने न केवल उन्हें लालच दिया, बल्कि उनकी जमीन से खाली होने का डर भी पैदा कर किया क्योंकि उनमें से ज्यादातर के पास सरकारी जमीन है।
बहराल पूरा खटीमा ही आज मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी की हार का प्रायश्चित कर रहा है

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here