सहानुभूति खुद के लिए बचाकर रखे हरीश रावत: चौहान
 
 भाजपा ने पूर्व सीएम हरीश रावत के पूर्व सीएम त्रिवेन्द्र रावत को लेकर दिये हालिया बयान पर पलटवार करते हुए कहा कि सहानुभूति उन्हे स्वयं के लिए बचानी चाहिए क्यूंकि परिणाम के बाद उन्हे इसकी सबसे अधिक जरूरत पड़ने वाली है । पार्टी प्रदेश मीडिया प्रभारी मनवीर सिंह चौहान ने तंज़ कसते हुए कहा कि न कॉंग्रेस जीतने वाली है और न ही जनता व सोनिया गांधी उन्हे सीएम बनाने वाली हैं इसलिए सबसे अधिक सहानुभूति भविष्य में उन्हे काम आने वाली हैं । उनके इज़राइली बग से ईवीएम हैक करने के बयान पर बोलते हुए उन्होने कहा कि रावत जी को ही नहीं समूची कॉंग्रेस को ही इटली बग ने वैचारिक तौर पर हैक किया हुआ हैं तभी उन्हे इस तरह के ख्याल आते हैं ।
 
मानवीर सिंह चौहान ने व्यंग करते हुए कहा कि हरीश रावत जी सुबह के वह भूले हैं जो शाम होने से पहले ही कई मर्तबा घर आ जाते हैं । रावत जी कभी खुद को कॉंग्रेस पार्टी की जरूरत और उत्तराखंड की चाहत बताते हैं, वहीं अगले ही दिन सीएम पद को लेकर सर्वाधिकार सोनिया गांधी के पास सुरक्षित देने की बात करते हैं । कभी चुनाव नहीं लड़ने की बात करते हैं फिर संभावित हार को देखते हुए एक सीट से दूसरी सीट पर भाग जाते हैं । दिल्ली में चुनाव अपने नेत्रत्व में लड़ने की बात करते हैं लेकिन देहरादून आते आते अपने इस कथन को अपना अंहकार बताते हैं | एक पल सीएम या सन्यास का विकल्प गिनाते हैं दूसरे ही पल पार्टी के निर्णय को अंतिम कहते हैं । उन्होने आरोप लगाते हुए कहा कि 10 मार्च के चुनाव परिणामों में अपनी निश्चित हार को देखते हुए हरीश रावत और उनकी पार्टी के नेता रोजाना कोई न कोई हार का बहाना अभी से सामने लेकर आ रहे हैं । पहले ईवीएम की चौकीदारी, फिर पोस्टल बेलेट में गड़बड़ी के आरोप अब इज़राइल से कोई बग मंगाकर ईवीएम हैक करने की बात करना, हमेशा की तरह इस बार भी कॉंग्रेस के नेता हार से पहले ही बहानेबाजी की रणनीति पर काम करने लगे हैं । इस विषय पर तंज़ कसते हुए उन्होने कहा कि कॉंग्रेस स्वयं इटली से लाये हुए बग से ग्रसित है जिसने उनके वैचारिक रैम को हैक किया हुआ है | तभी उनके नेता एक परिवार और सुविधावादी राजनीति से इतर कुछ सोच ही नहीं पाते हैं |
 
 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here