तमिलनाडु के कुन्नूर में बुधवार सुबह सेना का हेलिकॉप्टर क्रैश हो गया। इस चौपर में चीफ ऑफ डिफेंस स्टाफ बिपिन रावत भी पत्नी मधुलिका रावत के साथ मौजूद थे। हेलिकॉप्टर सवार लोगों को बचाने के लिए अभियान जारी है। वायुसेना ने कहा है कि दुर्घटना के कारणों का पता लगाने के लिए जांच के आदेश दे दिए गये हैं। इस बीच, चेन्नई में रक्षा सूत्रों ने बताया कि इस दुर्घटना में चार अधिकारियों की मौत हो गई है। इसके अलावा तीन अन्य को गंभीर हालत में अस्पताल मेें भर्ती कराया गया है। फिलहाल सीडीएस बिपिन रावत और उनकी पत्नी की हालत के बारे में कोई अपडेट सेना की ओर से नहीं दिया गया है।लेकिन जानकारी यही है कि उनका  हॉस्पिटल में इलाज जारी है 

यह भी पढ़े :  उत्तराखंड :प्यारी बेटी फाँसी लगाते समय हमारे बारे मे जरा सा भी ख्याल नही आया , हम कैसे जियेगे अब तेरे बिन, कोहराम के सिवा घर पर कुछ नही

सूत्रों ने कहा कि हेलिकाप्टर में 14 लोग सवार थे। शेष सात लोगों के बारे में अभी जानकारी नहीं मिली है। खबर के मुताबिक एक लेक्टर सीरीज में हिस्सा लेने के लिए बिपिन रावत जा रहे थे। एयरफोर्स ने ट्वीट कर जानकारी दी है कि यह चौपर Mi-17 सीरीज का था, जो सुबह हादसे का शिकार हो गया। हादसे की वजह की जांच का आदेश एयरफोर्स की ओर से दिया गया है। हादसे के बाद का जो वीडियो सामने आया है, उसमें चौपर पूरी तरह से जलकर खाक हुआ दिख रहा है। ऐसे में यह भीषण हादसा तमाम आशंकाओं को भी जन्म देता है

यह भी पढ़े :  उत्तराखण्ड का जानलेवा ट्रैक! अब तक मिले 5 शव ओर जारी है लापता लोगो को ढूंढने के लिए सर्च ऑपरेशन

फिलहाल लोगों को बचाने का काम चल रहा है, लेकिन सैन्य सूत्रों से इस बात की जानकारी नहीं मिली है कि किन लोगों को बचा लिया गया है। न्यूज एजेंसी पीटीआई की रिपोर्ट के मुताबिक चौपर तमिलनाडु के वेलिंगटन में स्थित डिफेंस सर्विसेज कॉलेज जा रहा था। इसी दौरान यह हादसा हुआ। हेलिकॉप्टर क्रैश होने के बाद भीषण आग लग गई। कहा जा रहा है कि धुंध छाई होने के चलते यह हादसा हुआ है। हेलिकॉप्टर जिस इलाके में गिरा है, वह जंगल का क्षेत्र है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here