उत्तराखंड: देवभूमि की नन्ही बच्ची का कमाल, नन्ही सी उम्र में कराया गौरवान्वित

उत्तराखंड का युवा हर क्षेत्र में कामयाबी हासिल कर रहा है। करियर में नाम कमाने के अलावा वह कई अन्य रोचक तरीकों से भी अपने साथ उत्तराखंड का नाम रोशन कर रहा है। खासकर स्कूल के बच्चे छोटी उम्र में कुछ कर गुजरने का माद्दा रखने लगे हैं। वह शुरुआत से ही खुद को अलग साबित करने का प्रयास कर रहे हैं। इसी बीच भीमताल की दक्षिणा सिंह ने भाषा के क्षेत्र में कमाल कर एक खिताब अपने नाम किया है।

लेक्स इंटरनेशनल स्कूल भीमताल की कक्षा 4 छात्रा दक्षिणा सिंह को इंडिया बुक ऑफ रिकॉर्ड द्वारा सम्मानित किया गया है। उन्होंने भारत में सबसे कम समय में (सबसे तेज़ मात्र १ मिनट २२ सेकेंड) भारत के संविधान की प्रस्तावना, संविधान के कुल २२ अनुच्छेद एवं समस्त २२ भाषाओं को बोलने का रिकॉर्ड बनाया है।

यह भी पढ़े :  मुख्यमंत्री रावत ने हीरो मोटोकॉर्प ग्रुप और बालाजी एक्शन बिल्डवेल के पदाधिकारियों के साथ की वर्चुअल बैठक 

उनकी इस कामयाबी के बाद घर पर खुशी का माहौल है और क्षेत्रवासी घर पर बधाई देने पहुंच रहे हैं। वहीं स्कूल ने भी दक्षिणा सिंह को बधाई दी और उज्जवल भविष्य की कामना की। दक्षिणा सिंह ने छोटी सी उम्र में जो कार्य किया उसे प्रेरित होकर क्षेत्र करे अन्य बच्चे भी स्कूली पढ़ाई से अलग अपने रूचि पर काम करेंगे और खुद की पहचान स्थापित करेंगे। 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here