गजब: उत्तराखंड में लापरवाही की हदें पार, जनता रिपोर्ट के लिए भटक रही, कोरोना सैंपल कबाड़ी के पास पहुँचे

हमारे व्हॉट्सपप् ग्रुप से जुड़िये

तीस बड़े बोरो में बरामद हुए जांच के सैकड़ों सिरिंज, मची सनसनी, उठे कई सवाल

देहरादून: कोरोना को लेकर हर जगह फैली दहशत के बीच हल्द्वानी में एक कबाड़ी के गोदाम से कोरोना जांच के सैंपल मिलने से सनसनी मच गई। तीस बड़े बोरों में जांच के सैकड़ों सिरिंज को स्वास्थ्य विभाग और पुलिस की टीम ने बरामद किया। देर रात तक स्वास्थ्य विभाग और नगर निगम की टीम गोदाम में पहुंचकर जांच पड़ताल में जुटी रही। अभी मुकदमा दर्ज नहीं किया गया है।

एसपी सिटी डॉ. जगदीश चंद्र और सीओ शांतनु पाराशर बुधवार शाम शहर के भ्रमण पर निकले थे। किसी ने उन्हें सूचना दी कि बरेली रोड पर कबाड़ के गोदाम में बायोमेडिकल वेस्ट खरीदकर रखा गया है। इनमें कोरोना जांच की सिरिंज और अन्य सामान हैं। बनभूलपुरा थानाध्यक्ष प्रमोद पाठक ने छापा मारा तो वहां तीस बोरों में सिरिंज सहित बायोमेडिकल वेस्ट भरा मिला। सिटी मजिस्ट्रेट ऋचा सिंह ने तुरंत मुकदमा दर्ज कर कार्रवाई के निर्देश दिए।

पुलिस का कहना है कि ऐसे सिरिंज से कोरोना महामारी का खतरा बढ़ सकता है।कोरोना महामारी की आशंका के चलते पुलिस ने सामान गोदाम से उठा लिया है। गोदाम पर पुलिस का पहरा लगाया गया है। गोदाम का मालिक भी पुलिस हिरासत में है। पुलिस ने गोदाम को सुरक्षा के घेरे में ले लिया है। बड़ा सवाल यह है कि बायो मेडिकल वेस्ट कहां से आया? विशेषज्ञों के अनुसार सामान्य तौर पर बायो मेडिकल वेस्ट के भंडारण आदि करने की अनुमति नहीं मिलती है। अधिकारी भी वेस्ट के पहुंचने की जगह का पता लगाने की बात कह रहे हैं।

सुशीला तिवारी अस्पताल और 13 निजी अस्पतालों में कोविड मरीजों का इलाज हो रहा है। लैब में जांच हो रही है। सुशीला तिवारी अस्पताल से इन दिनों प्रतिदिन आठ सौ से एक हजार किलोग्राम तक बायो मेडिकल वेस्ट निकल रहा है। इसके निस्तारण के लिए सुबह आठ से शाम पांच बजे तक इंसीनेटर चल रहा है। इसके बाद भी वेस्ट के निस्तारण को लेकर समस्या आ रही है। ऐसे में एक निजी संस्था के माध्यम से बायो मेडिकल वेस्ट निस्तारण का काम शुरू किया गया है। जानकारों के अनुसार कोविड से जुड़े बायो मेडिकल वेस्ट के निस्तारण की प्रतिदिन रिपोर्ट पीसीबी को भेजनी होती है।

वहीं मामले में जिलाधिकारी धीराज गर्ब्याल नेे कहा की मामले की  जांच कराई जा रही है। जो दोषी होगा, उसके खिलाफ कड़ी कार्रवाई होगी।

यूट्यूब चैनल सब्सक्राइब करें

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here