बड़ी ख़बर: पूर्व मुख्यमंत्री और हरिद्वार सांसद रमेश पोखरियाल निशंक को मिला बाबा केदारनाथ का आशीर्वाद ,पीएम मोदी की कैबिनेट मै मंत्री बनने जा रहे है निशंक !

हमारे व्हॉट्सपप् ग्रुप से जुड़िये

देवभूमि उत्तराखंड के लिए ख़ुश खबरी है आपको बता दे की उत्तराखंड के पूर्व मुख्यमंत्री और हरिद्वार से सांसद रमेश पोखरियाल निशंक जी को पीएम मोदी को कैबिनेट मैं मंत्री बनने जा रहै है । पूर्व मुख्यमंत्री और हरिद्वार सांसद रमेश पोखरियाल निशंक को इस बार बाबा केदारनाथ जी , पीएम मोदी और भाजपा के Rashtriya Adhyaksh अमित शाह जी का आशीष मिल गया है ।
बता दे कि पिछली मोदी सरकार में सांसद अजय टमटा को कैबिनेट में प्रतिनिधित्व मिला था।


मीडिया से बात करते हुए  रमेश पोखरियाल निशंक ने कहा कि मुझे पार्टी अध्यक्ष अमित शाह जी का फोन आया है। उन्होंने मुझे आज शाम प्रधानमंत्री के साथ बैठक के लिए उपस्थित रहने के लिए कहा। उन्होंने मुझे शपथ समारोह में भी उपस्थित होने के लिए भी कहा।
आप सब जानते ही है कि देश में 17वीं लोकसभा के गठन के लिए सम्पन्न चुनाव में भाजपा ने पूर्ण बहुमत के साथ परचम लहराया है। भाजपा को उत्‍तराखंड से पांचों सांसद मिले हैं। ऐसे में नरेंद्र मोदी सरकार में जब सांसद रमेश पोखरियाल निशंक मंत्री पद की शपथ लेंगे तो पूरे उत्तराखंड के लोगो मै ख़ुशी का माहौल साफ तौर पर दिखाई देगा ।

आपको बता दे को सांसद रमेश पोखरियाल निशंक आरम्भ से ही इस बात को लगातार कह रहे है कि प्रधानमंत्रीजी के विजन को जमीन पर उतारने का पूरा प्रयास करूंगा। उन्होंने कहा कि दुनियां में प्रधानमंत्री मोदी ने भारत की अलग पहचान बनाई है। राष्ट्रीय अध्‍यक्ष अमित शाह और पीएम मोदी उन्हें जो भी जिम्मेदारी सौंपेंगे, उस पर खरा उतरने का प्रयास करुंगा।

एक छोटा सा परिचय आपके पहाड़ पुत्र का
डॉ. रमेश पोखरियाल निशंक, सांसद (हरिद्वार, उत्तराखंड)

पिता- स्व. परमानंद पोखरियाल

मां- स्व. विशंभरी देवी

जन्म- 15 जुलार्इ 1959

जन्म स्थान- पिनानी, पौड़ी गढ़वाल

शादी- 7 मई 1985

पत्नी- स्वर्गीय कुसुमकांता  जी

शिक्षा- एमए, पीएचडी(ऑनर्स), डी. लिट(ऑनर्स), हेमवती नंदन बहुगुणा गढ़वाल यूनिवर्सिटी श्रीनगर।

साल 1991 से साल 2012 तक पांच बार यूपी और उत्तराखंड की विधानसभा पहुंचे।

साल 1991 में पहली बार उत्तर प्रदेश में कर्णप्रयाग विधानसभा क्षेत्र से विधायक निर्वाचित। जिसके बाद लगातार तीन बार विधायक बने।

साल 1997 में उत्तर प्रदेश सरकार में कल्याण सिंह मंत्रिमंडल में पर्वतीय विकास विभाग के मंत्री बने।

साल 1999 में रामप्रकाश गुप्त की सरकार में संस्कृति पूर्त व धर्मस्व मंत्री।

2000 में उत्तराखंड राज्य निर्माण के बाद प्रदेश के पहले वित्त, राजस्व, कर, पेयजल सहित 12 विभागों के मंत्री।

वर्ष 2007 में उत्तराखंड सरकार में चिकित्सा स्वास्थ्य, भाषा तथा विज्ञान प्रौद्योगिकी विभाग के मंत्री।

वर्ष 2009 में उत्तराखंड के सबसे युवा मुख्यमंत्री।

वर्ष 2012 में डोईवाला (देहरादून) क्षेत्र से विधायक निर्वाचित।

वर्ष 2014 में डोईवाला से इस्तीफा देकर हरिद्वार लोकसभा क्षेत्र से सांसद निर्वाचित।

निशंक एक कवि भी हैं।


बहराल पूरा उत्तराखंड उस पल का इंतजार कर रहा है जब रमेश पोखरियाल निशंक मोदी केबीनेट मैं मंत्री पद की शपथ लेंगे।

यूट्यूब चैनल सब्सक्राइब करें

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here