जानकरी अनुसार शुक्रवार देर रात माता वैष्णो देवी दरबार में दुखद हादसा हुआ। माता वैष्णो देवी मंदिर में भगदड़ मचने से 12 श्रद्धालुओं की मौत हो गई है। जबकि 14 श्रद्धालु घायल हो गए हैं। अधिकारियों ने बताया कि श्रद्धालुओं की भारी भीड़ के कारण भगदड़ हुई। ये घटना त्रिकुटा पहाड़ियों पर स्थित मंदिर के गर्भगृह के बाहर हुई। हादसा अहले सुबह करीब 2.45 बजे हुई। अधिकारियों ने बताया कि भगदड़ उस समय हुई जब नए साल की शुरुआत के मौके पर श्रद्धासुमन अर्पित करने पहुंचे श्रद्धालुओं की भारी भीड़ वैष्णो देवी भवन में जमा हो गई।

 

वरिष्ठ अधिकारी और श्राइन बोर्ड के प्रतिनिधि मौके पर पहुंचे। घायलों को स्थानीय नारायना अस्पताल में भर्ती किया गया है। तीन लोगों की हालत गंभीर बताई जा रही है। जान गंवाने वाले दिल्ली, हरियाणा, पंजाब और जम्मू-कश्मीर से हैं। इनमें दो महिलाएं भी शामिल हैं। घटनास्थल पर मौजूद लोगों का कहना है कि सुरक्षा के पर्याप्त इंतजाम नहीं किए गए थे। एक श्रद्धालु ने बताया कि बहुत भारी संख्या में लोग इकट्ठा हो गए थे। निकलने के लिए कोई रास्ता ही नहीं था। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने हादसे पर गहरा दुख जताया है। मोदी ने ट्वीट करके कहा, ‘माता वैष्णो देवी भवन में मची भगदड़ में लोगों की मौत से अत्यंत दुखी हूं। शोक में डूबे परिवारों के प्रति संवेदना।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here