तीरथ सरकार ये आंकड़े बता रहे है कि पहाड़ कोरोना के मकड़ जाल में फ़स रहा है , अब लाचार तंत्र को कसने जरूरी है

हमारे व्हॉट्सपप् ग्रुप से जुड़िये

तीरथ सरकार ये आंकड़े बता रहे है कि पहाड़ कोरोना के मकड़ जाल में फ़स गया है

कोरोना संक्रमण की दूसरी लहर राज्य के पर्वतीय जिलों में जमकर कहर बरपा रही है। सरकारी आंकड़ों के अनुसार एक मई से 19 मई के बीच नौ पर्वतीय जिलों में 20 हजार से अधिक मामले आए हैं, जो राज्य के कुल मामलों का 27.6 फीसदी है पहाड़ों में कोरोना से मरने वालों की तादाद भी लगातार बढ़ रही है। इसके लिए पहाड़ी जिलों में जांच की धीमी गति को जिम्मेदार माना जा रहा है। राज्य में एक मई से 19 मई तक कोरोना से मरने वालों में 19 प्रतिशत मरीज पर्वतीय जिलों के हैं।एक मई से 10 मई तक राज्य के नौ पर्वतीय जिलों में करीब 20 हजार लोग संक्रमित मिले, जो राज्य के कुल मामलों का 27.6 प्रतिशत हैं। इस हिसाब से राज्य में अब हर चौथा मामला उत्तराखंड के पर्वतीय जिलों से आ रहा है।

यूट्यूब चैनल सब्सक्राइब करें

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here