हमारे व्हॉट्सपप् ग्रुप से जुड़िये

उत्तर भारत के अव्वल मेडिकल काॅलेजों की सर्वे सूची में श्री महंत इन्दिरेश अस्पताल

(एसजीआरआरआईएमएण्डएचएस)
उत्तराखण्ड राज्य से श्री महंत इन्दिरेश अस्पताल सूची में शामिल एकमात्र नाम


अस्पताल से जुड़े डाॅक्टरों व स्टाफ के कठिन परिश्रम का प्रतिफल 

 

देहरादून

 लोकप्रिय श्री महंत इन्दिरेश अस्पताल (एस.जी.आर.आर.) एवम् श्री गुरु राम राय इंस्टीट्यूट ऑफ मेडिकल एण्ड हेल्थ साइंसेज को इण्डिया टुडेे के वार्षिक सर्वे में उत्तर भारत के नामचीन मेडिकल काॅलेजों की सूची में 18वां स्थान प्राप्त हुआ है।
इस सर्वे के दौरान सरकारी व प्राईवेट मेडिकलों काॅलेजों का विभिन्न बिन्दुओं पर तुलनात्मक अध्ययन व मूल्यांकन किया गया।
बेहद हर्ष का विषय है कि उत्तराखण्ड राज्य से श्री महंत इन्दिरेश अस्पताल एकमात्र अस्पताल है जो सर्वे की हर कसौटी पर अव्वल रहा।


श्री गुरु राम राय इंस्टीट्यूट ऑफ मेडिकल एण्ड हैल्थ साइंसेज एवम् श्री महंत इन्दिरेश अस्पताल के चेयरमैन श्रीमहंत देवेन्द्र दास जी महाराज ने अस्पताल से जुड़े सभी डाॅक्टरों, नर्सिंग स्टाफ, सहायक स्टाफ व अस्पताल की सेवाओं से जुड़े प्रत्यक्ष व परोक्ष सहयोगियों को बधाई दी व उनके प्रति आभार व्यक्त किया।

उन्होंने कहा कि यह सुखद समाचार श्री महंत इन्दिरेश अस्पताल व मेडिकल काॅलेज से जुड़े डाॅक्टरों व स्टाफ के वर्षों के कठिन परिश्रम व तप का सुखद परिणाम है।

उन्होंने सभी डाॅक्टरों व स्टाफ का आह्वाहन किया कि वे संकल्प को पुनः दोहराएं और सेवा भाव की इस यात्रा को शिखर तक पहुंचाने में अपना सहयोग जारी रखें।

चेयरमैन श्रीमहंत देवेन्द्र दास जी महाराज ने कहा कि मेडिकल टूरिज्म को बढ़ावा दिया जाएगा। बड़े शहरों में उपचार व तीमारदारों को ठहरने के लिए मोटा खर्च करना पड़ता है।
मेडिकल टूरिज्म के अन्तर्गत श्री महंत इन्दिरेश अस्पताल में आवश्यक संसाधन विकसित किये जाएंगे इससे उत्तराखण्ड का पर्यटन व पर्यटक दोनों बढ़ेंगे।

पीपीपी मोड के अन्तर्गत श्री महंत इन्दिरेश अस्पताल, जिला अस्पताल पौड़ी का संचालन कर रहा है। इससे पौडीवासियों को उनके ग्रह जनपद में सभी आवश्यक मेडिकल सुविधाएं मिल रही हैं व पलायन पर भी रोक लगने में कारगर साबित हुआ है।

यह भी पढ़े :  जानो उत्तराखंड: कम संक्रमण वाले इलाकों में चरणबद्ध ढंग से खुलेंगे बाजार ! कहा अधिक ओर यहां कम है संक्रमण पूरी रिपोर्ट

श्री महंत इन्दिरेश अस्पताल की यह दूरदर्शी सोच है कि पहाड़ के हर गांव हर हिस्से तक स्वास्थ्य सुविधाएं पहुंचाई जाएं

इस उद्देश्य की पूर्ति के लिए डाॅक्टरों, नर्सिंग व पैरामैडिकल की एक बड़ी टीम को तैयार किया जा रहा है।

काबिलेगौर है इण्डिया टुडे पत्रिका व मेडिकल विशेषज्ञों के पैनल की देखरेख में उत्तर भारत के विभिन्न मेडिकल काॅलेजों का सर्वे किया गया। सर्वे के दौरान विभिन्न अस्पतालों में आने वाले मरीजों की संख्या, उपचार के बारे में मरीजों की संतुष्टि, उपचार के बाद मरीजों के स्वस्थ होने का अनुपात, आधुनिक उपचार व जाॅचों की उपलब्धता, आधारभूत सुविधाओं, बिल्डिंग, मेडिकल छात्र-छात्राओं को पढ़ाई के दौरान उपलब्ध करवाए जाने वाले अत्याधुनिक संसाधनों, मेडिकल काॅलेजों में फेकल्टी की संख्या, फेकल्टी की वरिष्ठता, शोध एवम् अनुसंधान से जुड़े तथ्य, माॅर्डन लाइब्रेरी में उपलब्ध राष्ट्रीय एवम् अन्तर्राष्ट्रीय जर्नलों की उपलब्ध संख्या सहित विभिन्न मापदण्डों पर मूल्यांकन किया जाता है। उत्तराखण्ड से एकमात्र श्री महंत इन्दिरेश अस्पताल सर्वे की हर कसौटी पर खरा उतरा है। कोरोना काल के दौरान श्री महंत इन्दिरेश अस्पताल ने हज़ारों मरीजो की जान बचाई। इस अवसर पर अस्पताल प्रबन्धन ने दोहराया कि श्री महंत इन्दिरेश अस्पताल उत्तराखण्ड वासियों को बेहतर से बेहतर स्वास्थ्य सेवाएं प्रदान करने के लिए कृतसंकल्पबद्ध है।

यह भी पढ़े :  श्रद्धा और भक्तिभाव के साथ मनाया गया महानिर्वांण पर्व, श्री गुरु राम राय महाराज जी की जय , सज्जादानशीन श्रीमहंत देवेन्द्र दास जी महाराज जी के लगे जयकारे श्री दरबार साहिब में जुटीं थी देश व विदेशों से आई संगतें, 10 हज़ार से अधिक श्रद्धालुओं को श्री महाराज जी ने आशीर्वाद दिया।


इण्डिया टुडे की सूची में शामिल अधिकांश मेडिकल काॅलेज सरकारी हैं व दशकों पूर्व अस्तित्व में आ चुके हैं। श्री महंत इन्दिरेश अस्पताल, श्री गुरु राम राय इंस्टीट्यूट ऑफ मेडिकल एण्ड हेल्थ साइंसेज़ एक प्राइवेट काॅलेज है व अभी नया है, इसके बावजूद इतने कम समय में नामचीन संस्थानों को पछाड़ते हुए सर्वश्रेष्ठ मेडिकल काॅलेजों की सूची में आना श्री महंत इन्दिरेश अस्पताल के लिए गौरव की बात है। अस्पताल प्रबन्धन ने अस्पताल की सेवाओं में प्रत्यक्ष व परोक्ष रूप से सहयोग करने वाले हर सहयोगी के प्रति आभार व्यक्त किया है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here