Wednesday, June 12, 2024
Homeआपकी सरकारभ्रष्टाचार के खिलाफ मुख्यमंत्री धामी का धर्म युद्ध : जो कहा वो...

भ्रष्टाचार के खिलाफ मुख्यमंत्री धामी का धर्म युद्ध : जो कहा वो किया.. पटवारी एवं JE/AE पेपर लीक प्रकरण में मुख्य षड़यन्त्रकर्ता अभियुक्त संजय धारीवाल गिरफ्तार…

भ्रष्टाचार के खिलाफ मुख्यमंत्री धामी का धर्म युद्ध : जो कहा वो किया..
पटवारी एवं JE/AE पेपर लीक प्रकरण में मुख्य षड़यन्त्रकर्ता अभियुक्त संजय धारीवाल गिरफ्तार…

पटवारी और जेई/एई पेपर लीक कांड के मास्टरमाइंड को एसआईटी ने दबोचा टीम अजय सिंह को मिली बड़ी कामयाबी

मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी का निर्देश
“कोई भी नकल माफिया बचे नहीं” को पूरा करती हरिद्वार एसआईटी

एसएसपी अजय सिंह के सटीक दिशा निर्देशन में S.I.T. ने हासिल की एक और बड़ी कामयाबी
पेपर लीक प्रकरण में S.I.T. ने 50 हजार के इनामी संजय धारीवाल को नारसन से दबोचा
लगातार फरार रहकर जमानत की जोड़तोड़ कर रहे वांछित पर घोषित था पचास हजार का इनाम
पटवारी एवं JE/AE पेपर लीक प्रकरण में मुख्य षड़यन्त्रकर्ता है अभियुक्त संजय धारीवाल
टीम ने अभियुक्त के भाई के मकान (करनाल हरियाणा) से 4 लाख 25 हजार कैश व 02 ब्लैंक चैक किए बरामद
घटना में प्रयुक्त वाहन भी बरामद
पटवारी व JE/AE दोनों प्रकरणों में गिरफ्तार अभियुक्तों की संख्या पहुंची 38

Paper leak mastermind Sanjay Dhariwal arrested: उत्तराखंड की पुष्कर सिंह धामी सरकार के नकल माफिया को लेकर जीरो टॉलरेंस दावे को कमजोर कर रहा नकल माफिया संजय धारीवाल आखिरकार हरिद्वार पुलिस की एसआईटी के हत्थे चढ़ ही गया है। संजय धारीवाल पटवारी और जेई/एई पेपर लीक कांड का मुख्य षड्यंत्रकर्ता है और उस पर पचास हजार का इनाम भी घोषित किया गया था। नकल माफिया संजय धारीवाल हरिद्वार पुलिस कप्तान अजय सिंह की एसआईटी के लिए सबसे बड़ी चुनौती बन चुका था।

इतना ही नहीं संजय धारीवाल बीजेपी का मंगलौर देहात मंडल अध्यक्ष भी रह चुका था लिहाजा विपक्ष इस मुद्दे पर लगातार सत्ताधारी दल पर पार्टी से जुड़े रहे नेता को बचाने जा आरोप लगाते हुए धामी सरकार को कटघरे में खड़ा कर रहा था। लेकिन मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने संजय धारीवाल और उनके जैसे तमाम नकल माफिया की धरपकड़ के निर्देश दे दिए थे। यही वजह रही कि हरिद्वार पुलिस की एसआईटी ने एक एक कर नकल माफिया संजय धारीवाल के छोटे भाई सहती तमाम करीबियों को दबोचना शुरू कर दिया था। आखिरकार चौतरफा घिरा संजय धारीवाल भी नारसन ने दबोच लिया गया। धारीवाल पुलिस गिरफ्तारी से बचने को जमानत लेने की फिराक में भी कानूनी दांव पेंच खेल रहा था। हालांकि उसके मंसूबे धरे के धरे रह गए।

पटवारी पेपर लीक प्रकरण में थाना कनखल पर दर्ज मु0अ0स0-12/2023 धारा 409, 467, 468, 420, 471, 120 बी भा.द.वि. व ¾ परीक्षा निवारण व 8 भ्रष्टाचार निवारण अधिनियम में फरार चल रहे पचास हजार (50000/-) के इनामी अभियुक्त संजय धारीवाल पुत्र सुरेन्द्र सिंह निवासी मौहम्मदपुर जट कोतवाली मंगलौर को S.I.T. टीम ने नारसन क्षेत्र से पकड़ने में सफलता हासिल की है।

अपने गिरोह के साथ मिलकर पटवारी/लेखपाल एवं JE/AE भर्ती में अभ्यर्थियों से लाखों रुपए व ब्लैंक चैक प्राप्त कर गिरफ्तारी से बचने व गिरफ्तारी स्थगित कराने तथा सरेंडर का प्रयास कर रहे फरार अभियुक्त संजय धारीवाल पर आईजी गढवाल रेंज करण सिंह नगन्याल द्वारा 50,000/- (पचास हजार रुपए) का इनाम घोषित किया गया था।

फरार अभियुक्त को सलाखों के पीछे पहुंचाने के लिए लगातार दबिश दे रही S.I.T. टीम ने अभियुक्त को मुखबिर की सूचना पर नारसन से गिरफ्तार किया। अभियुक्त की निशांदेही पर अभ्यर्थियों को नकल स्थलों तक लाने व परीक्षा केन्द्रों तक ले जाने में प्रयुक्त वाहन एचआर 75 – 5692 को अभियुक्त के मौहम्मदपुर जट हरिद्वार स्थित घर से बरामद कर अभियुक्त के भाई सुधीर के करनाल हरियाणा स्थित मकान से कुल 425000/- (चार लाख पच्चीस हजार रुपये) व दो ब्लैंक (हस्ताक्षरित) चैक बरामद किये। अभियुक्त द्वारा उक्त धनराशि में से एक लाख दस हजार रुपये पटवारी भर्ती तथा तीन लाख पन्द्रह हजार रुपये व दोनों चैक एई /जेई भर्ती से सम्बन्धित छात्रो से लिए गए थे।

मुकदमा की विवेचना के दौरान पूर्व में ही अभियुक्त को प्रश्रय देने पर भाई सुधीर व बहन के जमाई दीपेन्द्र पंवार उर्फ सोनू पुत्र ऋषिपाल सिंह निवासी मुकन्दरपुर थाना गदरपुर जिला उधम सिंह नगर (कोचिंग संचालक) को गिरफ्तार किया जा चुका है। दोनों अभियोगों (पटवारी एवं JE/AE) में वर्तमान तिथि तक कुल 38 अभियुक्त गिरफ्तार किये जा चुके हैं। विवेचना प्रचलित है।

गिरफ्तार अभियुक्त का नाम पता –
संजय धारीवाल पुत्र सुरेन्द्र सिहं निवासी मौहम्मदपुर जट कोतवाली मंगलौर जिला हरिद्वार

बरामदगी-
1- वाहन HR 75-5692
2- 425000/- कैश
3- दो ब्लैंक चैक (हस्ताक्षरित)

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

Recent Comments