सावधानः देहरादून में साइबर ठगों का फैल रहा जाल, ऐसे लगा रहे है युवाओं को लाखों का चूना, कहीं आप भी न हो जाए शिकार

देहरादून: प्रदेश में लगे कोरोना कर्फ्यू में अधिकांश लोग इंटरनेट सर्फिंग और सोशल मीडिया पर अपना समय व्यतीत कर रहे हैं. ऐसे में साइबर क्रिमनल इन लोगों को अपना शिकार बनाने में लगे हैं. वहीं, कोरोना काल में बेरोजगारी बढ़ने से अब साइबर क्रिमिनल  मल्टीनेशनल कंपनियों के  प्रतिनिधि बनकर नौकरी देने के नाम बेरोजगारों को चूना लगा रहे हैं. ऐसा ही एक मामला देहरादून के साकेत कॉलोनी से सामने आया है. जहां शिकायतकर्ता को ऑनलाइन इंटरव्यू के जरिए Hyundai कंपनी में नौकरी देने के नाम पर साइबर ठगों ने 3,50,000 (साढ़े तीन लाख) रुपये का चूना लगाया है।

नौकरी के नाम पर बैंक डिटेल लेकर धोखाधड़ी

देहरादून साइबर क्राइम पुलिस स्टेशन में तहरीर देते हुए शिकायतकर्ता ने बताया कि उसने नौकरी के लिए ऑनलाइन आवेदन किया था. जिसके कुछ समय बाद उसे एक मेल आया. जिसमें मेल भेजने वाले ने खुद को हुंडई कंपनी का प्रतिनिधि बताया. साथ ही उससे कार्य अनुभव और अन्य दस्तावेज मांगे. वहीं, सभी तरह के दस्तावेज भेजने के बाद शिकायतकर्ता से ऑनलाइन इंटरव्यू लिया गया. उसे बताया गया कि नौकरी के लिए उसका चयन किया गया है. साथ ही रजिस्ट्रेशन फीस सहित अन्य तरह के शुल्क के नाम पर शिकायतकर्ता से बैंक डिटेल्स ले लिया. जिसके बाद देखते ही देखते अलग-अलग तारीखों में ₹3,50,000 शिकायतकर्ता के बैंक खातों से साइबर क्रिमिनल द्वारा निकाल लिया गया. मामले में शिकायतकर्ता की तहरीर के आधार पर साइबर पुलिस ने मुकदमा दर्ज कर जांच पड़ताल शुरू कर दी है।

सोशल मीडिया पर अश्लील फोटो के जरिए ब्लैकमेल

सोशल मीडिया फेसबुक और इंस्टाग्राम पर फेक आईडी बनाकर महिलाओं की अश्लील वीडियो क्लिप एडिट कर धोखाधड़ी करने के मामले लगातार बढ़ते जा रहे हैं. ऐसा ही मामला देहरादून के विकास नगर क्षेत्र से सामने आया है. यहां एक महिला ने साइबर पुलिस स्टेशन को तहरीर देते हुए बताया कि एक अज्ञात व्यक्ति द्वारा उसे बदनाम और ब्लैकमेल करने की नीयत से उसकी फोटो को एडिट कर अश्लील बनाकर फर्जी इंस्टाग्राम आईडी में पोस्ट कर दिया गया. ऐसे में लगातार सोशल मीडिया पर उसकी अश्लील फोटो आने से वह मानसिक रूप से परेशान हो गई है. वहीं, मामले में शिकायतकर्ता महिला के प्रार्थना पत्र पर मुकदमा दर्ज कर साइबर क्राइम पुलिस ने जांच पड़ताल शुरू कर दी है.

मोबाइल सिम KYC अपडेट के नाम पर ठगी

इन दिनों साइबर क्रिमिनल टेलिकॉम कंपनी का सिम केवाईसी अपडेट करने के नाम पर लोगों से ठगी कर रहे हैं. देहरादून रायपुर थाना क्षेत्र के तपोवन निवासी ने साइबर पुलिस स्टेशन को प्रार्थना पत्र देते हुए बताया कि उसे एक अज्ञात नंबर द्वारा फोन आया. कॉलर ने खुद को टेलीकॉम कंपनी का प्रतिनिधि बताते हुए मोबाइल सिम के केवाईसी ना होने के कारण मोबाइल नंबर बंद होने की बात बताई. ऐसे में शिकायतकर्ता ने KYC अपडेट करने के लिए अज्ञात कॉलर द्वारा भेजे गए लिंक में ₹10 का रिचार्ज कराया. उसके बाद अलग-अलग तरह की जानकारी अज्ञात कॉलर द्वारा बैंक डिटेल के रूप में ली गई. फिर देखते ही देखते शिकायतकर्ता के बैंक खाते से 19 हजार 988 रुपये साइबर ठगों ने निकाल लिए. मामले में साइबर पुलिस ने मुकदमा दर्ज कर जांच शुरू कर दिया है. प्रारंभिक जांच में अज्ञात कॉलर का नंबर पश्चिम बंगाल का बताया जा रहा है

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here