हमारे व्हॉट्सपप् ग्रुप से जुड़िये

देहरादूनः उत्तराखंड में लगातार बादल फटने की घटनाएं हो रही हैं। पहाड़ के कई इलाकों में पिछले 1 महीने में बादल लगातार फटे हैं। वही पिछले 2 दिनों से प्रदेशभर में हो रही बारिश ने भी आपदा के हालात बना दिए हैं। ऐसे में चकराता तहसील के बिजनू के समीप बिजनाड छानी में बादल फटने से तबाही की खबर है। सुबह बादल फटने से कोल्हा गांव में मकान ध्वस्त होने से 4 लोगों के लापता होने की खबर है। पुलिस व एसडीआरएफ टीम मौके पर रवाना हो चुकी है।

वहीं दूसरी और नैनीतील में भी ये बारिश दो परिवारों पर काल बनकर टूटी है। उत्तराखंड के भवाली में एक घर की सुरक्षा दीवार टूटने के दो लोग दब गए तो वहीं बाजपुर में एक मकान टूटने से दो लोगों की दबकर मौत हो गई। भवाली में भीमताल रोड स्थित नगारी गांव में एक निर्माणाधीन मकान की सुरक्षा दीवार टूटकर नीचे घर में घुस गई। जिससे घर में सो रहे दो लोग मलवे में दब गए।

जानकारी के अनुसार बीती रात से हो रही मूसलाधार बारिश से नगारी गांव निवासी प्रीति भल्ला पति जर्नल अमरजीत सिंह भल्ला के घर में गुरुवार सुबह निर्माणाधीन मकान की सुरक्षा दीवार गिर गई। आनन फानन में दोनों ने बाथरूम में जाकर अपनी जान बचाई। सुबह रेस्क्यू कर दोनों को सीएचीसी भेजा गया। प्रीति भल्ला को ज्यादा चोटे लगने से हायर सेंटर रेफर किया गया है।

बाजपुर में केलाखेड़ा के निकट गांव रम्पुरा काजी स्थित कच्चे मकान की दीवार धराशायी हो गई। अंदर सो रहे दो लोगों की दबकर मौत हो गई। गुरुवार सुबह पांच बजे तेज हवा और बारिश के चलते गांव रम्पुरा काजी में एक कच्चे मकान की दीवार अचानक धराशायी हो गई। कच्चे मकान के अंदर सो रहे शंकर (28) निवासी ट्रांजिट कैंप रुद्रपुर और मुकेश (40) निवासी खेड़ा रुद्रपुर की दबकर मौत हो गई।

सूचना पर आसपास के लोग मौके पर पहुंचे। एसडीएम विवेक प्रकाश, सीओ वंदना वर्मा, एसओ बीसी जोशी ने घटनास्थल पर पहुंच कर जांच पड़ताल की। पुलिस ने  दोनों शवो को कब्जे में लेकर पंचायत नामा भरकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया।

 

 

यूट्यूब चैनल सब्सक्राइब करें

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here