यूक्रेन में फंसे लोगों को बचाने के लिए सभी अपनी तरीके से मदद करने में जुटे हुए हैं ऐसे में पुर केंद्रीय मंत्री रमेश पोखरियाल निशंक ने केंद्रीय विदेश मंत्री जयशंकर प्रसाद को पत्र लिखकर बड़ी मांग की है अपने पत्र में उन्होंने लिखा की

जैसा कि आपको विदित है कि रूस और यूक्रेन के मध्य छिड़े युद्ध के कारण यूक्रेन में उत्तराखण्ड समेत अन्य राज्यों के लोग भय और तनाव के वातावरण में वहां फंसे पड़े है। यह संतोष का विषय है कि भारत सरकार अपने नागरिकों को स्वदेश लाने हेतु कृतसंकल्प है। इस दिशा में कार्य प्रारम्भ हो गया है।

यह भी पढ़े :  तो पूर्व मुख्यमंत्री हरीश रावत को कुमाऊं में ही उलझाने का रचा जा चुका है चक्रव्यूह! फिर से डबल इंजन.. की पटकथा लिखने भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा का 20 और 21 अगस्त से उत्तराखंड दौरा

भारत सरकार द्वारा इस दिशा में यूक्रेन के पड़ोसी देशों से संपर्क किये जाने से लोगों को राहत मिली है। उत्तराखण्ड से सैकड़ो विद्यार्थी एवं कर्मचारी यूक्रेन के विभिन्न हिस्सों में फंसे पड़े है, जिसके कारण उनके परिजन अत्यन्त चिन्तित हैं तथा उनकी कुशल वापसी के लिए आवेदन कर रहे है। अनिश्चिता की स्थिति में वहां पर रह रहे लोग अत्यन्त तनाव में है और सुरक्षित भारत लाये जाने की मांग कर रहे है। इन विषम परिस्थितियों में यूक्रेन में रह रहे विद्यार्थियों और अन्य लोगों को सुरक्षित स्थान पर रखने की व्यवस्था की जाय।

मेरा आपसे आग्रह है कि स्वदेश वापसी के प्रयासों को सार्वजनिक कर सब से साझा किया जाय ताकि परिजनों की चिन्ता दूर हो सके।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here