देहरादून।
उत्तराखंड सेवा अधीनस्थ चयन आयोग के द्वारा कराए गए पेपर लीक मामले में मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी का बयान सामने आया है। मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी का कहना है कि अभी और भी आयोग की शिकायतें आई हैं जिन पर कार्रवाई होना तय है..

यानि कि मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने साफ तौर से यह जाहिर कर दिया है, कि जो भी आयोग बेरोजगारों के साथ खिलवाड़ करेंगे उनको या जिम्मेदार लोगों को   छोड़ा  नही जायेगा..
या सीधे तौर पर कह दे  कि धामी को भ्रष्टाचार तो दूर भ्रष्टाचार का नाम भी पसंद नही

सीएम धामी का कहना है कि उत्तराखंड सेवा अधीनस्थ चयन आयोग में जिस तरह से रैकेट बना कर पेपर लीक किया है, उसका संज्ञान सरकार ने लिया है, और उसमे कारवाई भी शुरू हो चुकी है। सीएम पुष्कर सिंह धामी ने साथ ही ये  भी  कहा कि सरकार की पहली प्राथमिकता पारदर्शिता और भ्रष्टाचार मुक्त उत्तराखंड  को करने की है  जिस पर सरकार काम कर रही हो इसके चलते यह कार्रवाई भी हुई है। आपको बता दें कि बेरोजगार महासंघ के द्वारा उत्तराखंड अधीनस्थ सेवा चयन आयोग के द्वारा कराई गई परीक्षा में पेपर लीक की शिकायत मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी से की गई थी, जिसके बाद मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने बेरोजगार महासंघ की मांग पर मुकदमा दर्ज करने के निर्देश दिए थे।

पूरे मामले की जांच  कर रही एसटीएफ ने 2 दिन के भीतर ही 6 आरोपियों को सलाखों तक पहुंचा दिया हैं। वहीं सीएम पुष्कर सिंह धामी का साफ तौर से कहना है कि अन्य आयोगों में भी भर्ती परीक्षा में धांधली की जो शिकायतें मिली हैं उन पर भी कार्रवाई होना अभी बाकी है।

Google search engine


Google search engine

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here