उत्तराखंड में भारी बारिश की चेतावनी के बाद बाढ़ को लेकर 30 गावों में रेड अलर्ट, गंगा सहित कई नदियां उफनाईं.. कई जिलों में डीएम ने किए छुट्टी के आदेश जारी.. सीएम धामी ने दिए सख्त निर्देश …

उत्तराखंड में देहरादून, नैनीताल, पिथौरागढ़ सहित कई जिलों में भारी बारिश का रेड अलर्ट जारी किया है। मौसम विभाग की चेतावनी के बाद हरिद्वार प्रशासन भी अलर्ट मोड पर आ गया है। दो दिन तक भारी बारिश की मौसम विभाग की चेतावनी ने प्रशासन में हलचल मचा दी।

आपदा की आशंका को देखते हुए प्रशासन ने गंगा और सोलानी नदी के किनारे के आसपास के चालीस से अधिक गांवों में रेड अलर्ट जारी कर दिया है। साथ ही आपदा में राहत एवं बचाव की तैयारी भी कर ली गई है। हरिद्वार जिले में अभी तक एकाध बार ही ढंग से बरसात हुई है।

यह भी पढ़े :  उत्तराखंड में डिप्टी सीएम बनने की बात फैली!, दो भाजपा विद्यायक के झगड़े को निपटाने के बाद या पहले !

मौसम विभाग ने 20 और 21 जुलाई को हरिद्वार सहित कई जिलों में बेतहाशा बारिश होने की चेतावनी दी है। चेतावनी से तहसील प्रशासन चौकन्ना हो गया है। बारिश होने पर आपदा की संभावना को देखते हुए तहसील प्रशासन ने गंगा और सोलानी नदी के किनारे के दो किलोमीटर के दायरे में बसे तीस से अधिक गांवों में रेड अलर्ट घोषित कर दिया है।

सोमवार सुबह से एसडीएम गोपालराम बिनवाल, तहसीलदार शालिनी मौर्य, नायब तहसीलदार रमेशचंद्र नौटियाल के अलावा राजस्व निरीक्षक और लेखपाल गांव गांव जाकर लोगों को इसकी जानकारी देकर सतर्क कर रहे हैं। यही नहीं, ज्यादा बरसात होने से आपदा आने की संभावना को देखते हुए एसडीएम तथा तहसीलदार ने राहत एवं बचाव के लिए की गई तैयारियों की समीक्षा भी की।

यह भी पढ़े :  उत्तराखंड:खेल रहे बच्चे को उठाकर ले गए अज्ञात कार सवार, नहीं लगा सुराग, जांच में जुटी पुलिस

बालावाली, भिक्कमपुर, गोवर्धनपुर व माड़ाबेला की सभी चार बाढ़ राहत चौकियों पर तैनात कर्मचारियों को अलर्ट करते हुए 24 घंटे चौकी पर मौजूद रहने की हिदायत भी दी गई है। अतिरिक्त पुलिस बल सहित एसडीआरएफ फोर्स को संवदेनशील स्थानों में तैनात किया गया है, ताकि रिस्पांस टाइम को कम किया जा सके।

मौसम विभाग द्वारा नैनीताल जिले मे भारी बारिश को लेकर किए गए रेड अलर्ट के चलते डीएम नैनीताल धीराज गर्बयाल ने जनपद के सभी सरकारी और गैर सरकारी स्कूलों के साथ ही आंगनबाड़ी केंद्रों को बंद करने के निर्देश दिए हैं

डीएम द्वारा यह निर्देश मौसम विभाग द्वारा जारी किया गया रेड अलर्ट को देखते हुए किया गया है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here