नीलकंठ महादेव मंदिर के दर्शन के लिए जा रहे कांवड़ यात्रियों से भरी एक बस मुनिकीरेती के खारा स्रोत के समीप दुर्घटनाग्रस्त हो गई। दुर्घटना में एक महिला की मौत हो गई। जबकि 34 यात्री घायल हो गए। बस में 60 से अधिक यात्री सवार थे। गंभीर रूप से घायल कुछ यात्रियों को एम्स ऋषिकेश में रेफर किया गया है।

बलिया उत्तर प्रदेश से करीब 60 यात्री नीलंकठ दर्शन के ल‍िए आए थे

दुर्घटना गुरुवार सायं करीब पांच बजे हुई। बलिया उत्तर प्रदेश से करीब 60 यात्री एक डबल डेकर बस में सवार होकर नीलकंठ महादेव मंदिर के दर्शन के लिए आए थे। गुरुवार को उन्होंने हरिद्वार में जल भरा उसके बाद नीलकंठ के लिए रवाना हुए। बस को भद्रकाली होते हुए मुनिकी रेती पार्किंग में आना था। भद्रकाली से आगे अचानक बस के ब्रेक फेल हो गए।

यह भी पढ़े :  उत्तराखंड में करोना फिर बढ़ने लगा है आज 148 लोग कोरोना  पाजिटिव  आये हैं..  जिसमें से  109 केस सिर्फ देहरादून से .. लिहाजा  सतर्क  रहने की जरूरत है  

घायलों को 108 आपात सेवा और विक्रम टेंपो से भेजा ऋषिकेश

अनियंत्रित बस पहले एक पोल से टकराई, जिसके बाद जबरदस्त टक्कर के साथ पहाड़ी से टकराकर घिसटते हुए कुछ आगे जाकर रुक गई। दुर्घटना के बाद यात्रियों में चीख-पुकार मच गई। सूचना पाकर मौके पर पहुंची पुलिस ने बस में सवार यात्रियों को किसी तरह बाहर निकाला। घायलों को 108 आपात सेवा तथा विक्रम टेंपो के माध्यम से राजकीय चिकित्सालय ऋषिकेश भेजा गया। जहां इंदु देवी (50 वर्ष) पत्नी भरत निवासी मजुआ बलिया उत्तर प्रदेश को चिकित्सकों ने मृत घोषित कर दिया। जबकि दुर्घटना में 34 यात्रियों को चोटें आई हैं

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here