उत्तराखंड की जनता परेशान न हो राशन की दुकानों पर भी मिल रहा है जरूरी सामान : मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र

जी हा उत्तराखंड में सस्ते गल्ले की दुकानों पर अब उपभोक्ताओं को गेहूं, चावल के अलावा अन्य सभी जरूरी सामान भी मिलेगा। आपको बता दे कि त्रिवेंद्र सरकार ने राशन दुकानों पर साबुन, टूथपेस्ट, सरसों व रिफाइंड तेल, आयोडीन नमक, चाय पत्ती समेत ओआरएस, सेनेटरी नैपकिन बेचने की छूट दी है। वही शासन ने इस संबंध में कल यानी बृहस्पतिवार को सभी जिलाधिकारियों को आदेश जारी किए हैं।
बता दे कि सचिव खाद्य एवं आपूर्ति सुशील कुमार की ओर से जारी आदेश में सस्ते गल्ले की दुकानों पर नियंत्रित मूल्य की वस्तुएं गेहूं, चावल, दाल, चीनी, खाद्य तेल, मिट्टी का तेल, साफ्ट कोक पर बेचने की व्यवस्था है। कोरोना वायरस के संक्रमण की रोकथाम के लिए 21 दिनों के लॉकडाउन के कारण प्रदेश के सभी सस्ते गल्ले की दुकानों पर लोगों को आवश्यक जरूरी वस्तुएं उपलब्ध कराई जाएंगी।
तो वही सरकार के आदेश के बाद प्रदेश भर में 9200 सस्ते गल्ले की दुकानों पर 23 लाख परिवारों को सस्ता राशन के अलावा पैक्ड आटा, खाद्य तेल, नमक, चाय पत्ती, मसाला, साबुन, टूथपेस्ट, माचिस, मोमबत्ती, सैनिटाइजर, मास्क, ओआरएस, सेनेटरी नैपकिन समेत अन्य आवश्यक वस्तुओं को बेचने की अनुमति दी गई है।
बता दे कि
सस्ते गल्ले की दुकानों पर सस्ता राशन के अलावा अन्य आवश्यक वस्तुओं की बिक्री सुनिश्चित करने के लिए एसडीएम स्तर के अधिकारी को नोडल अफसर नामित किया जाएगा। इस कार्य के लिए एक समिति बनाई जाएगी। इसमें जिला पूर्ति अधिकारी सदस्य सचिव होंगे।
वही सामान की डोर स्टेप डिलीवरी…


वरिष्ठ, असहाय नागरिकों और बीमार व्यक्तियों की सुविधा के लिए आवश्यक वस्तुओं की डोर स्टेप डिलीवरी करने के आदेश दिए गए हैं। घर तक सामान पहुंचाने के लिए परिवहन में आने वाले खर्चे का निर्धारण करने के लिए जिलाधिकारी स्वतंत्र होंगे। पूर्ति निरीक्षकों की ओर से सस्ता राशन विक्रेताओं के मोबाइल नंबर डोर स्टेप डिलीवरी के लिए प्रसारित किए जाएंगे।

मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत ने कोरोना वायरस की रोकथाम के लिए प्रदेश में लागू लॉकडाउन का सख्ती से अनुपालन करवाने का निर्देश दिया है। उन्होंने वीडियो कांफ्रेंसिंग के माध्यम से सभी जिलाधिकारियों के साथ वार्ता की। सीएम ने मैदानी जनपदों हरिद्वार, ऊधमसिंह नगर, नैनीताल और देहरादून में अधिक ध्यान देने को कहा है।

मुख्यमंत्री ने कहा कि कई जिलों में सुबह सात से दस बजे के बीच दी जा रही ढील में भीड़ उमड़ रही है, जिस कारण सोशल डिस्टेंसिंग का अनुपालन नहीं हो रहा है। लोग बेवजह भी घरों से निकल रहे हैं, इससे संक्रमण का खतरा बढ़ता है। उन्होंने पुलिस और जिला प्रशासन से कहा कि केवल जरूरी सामान लेने के लिए ही लोगों को घरों से बाहर निकलने दें।

प्रशासन लोगों को समझाए कि आवश्यक वस्तुओं की आपूर्ति बाधित नहीं होगी। इसके बाद मुख्यमंत्री ने अपने आवास पर देहरादून के डीआईजी अरुण मोहन जोशी और जिलाधिकारी आशीष श्रीवास्तव से राजधानी में लॉकडाउन से पैदा हुई स्थिति की जानकारी ली। मुख्यमंत्री ने कहा कि पुलिस और जिला प्रशासन हर गतिविधि पर नजर रखे। जरूरत पड़ने पर सख्त कदम भी उठाए जाएं।

होम डिलीवरी से मिलेगा राशन
जिला प्रशासन को शहरी क्षेत्रों में राशन की घरों पर सप्लाई की व्यवस्था भी बनानी होगी। इसके लिए राशन की दुकानों के साथ संपर्क साधा जाएगा। फोन नंबर जारी किए जाएंगे, जिन पर कॉल कर राशन की लिस्ट दी जा सकती है। डिलीवरी ब्वॉय राशन घर छोड़कर जाएगा


LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here