उत्तराखंड सरकार को एनजीटी का नोटिस

उत्तराखंड मे मोदी सरकार का बड़ा प्रोजेक्ट चार धाम पर काम चल रहा है जिस पर खबर है कि n.g.t ने केंद्र और उत्तराखंड़ सरकार को नोटिस जारी कर दिया है जिसकी वजह है नदियों में डाला जा रहा मलवा  
आपको बता दे कि उत्तराखंड मे बड़े जोर शोर से चार धाम यात्रा मार्ग पर काम चल रहा है और इसी चार धाम रोड कंस्ट्रक्शन प्रोजेक्ट को लेकर नेशनल ग्रीन ट्रिब्यूनल (एनजीटी) ने केंद्र और उत्तराखंड सरकार को नोटिस री  कर दिया है आपको बता दे कि एनजीटी ने प्रोजेक्ट में गलत तरीके से डबरी फेंकने को लेकर नोटिस जारी किया है। एनजीटी ने केंद्रीय परिवहन मंत्रालय, पर्यावरण मंत्रालय और उत्तराखंड सरकार को नोटिस जारी किया है। जिसके चलते एनजीटी ने 26 अगस्त तक जवाब दाखिल करने के निर्देश दिये है ।
सवाल ये खड़ा हुवा है कि
राज्य सरकार ने सड़क निर्माण के दौरान निकली डबरी के सही निस्तारण के लिए कोन से ओर क्या क़दम उठाए हैं? आपको बता दे कि एक एनजीओ कॉमन कॉज ने एनजीटी में चारधाम रोड पर चल रहे कंस्ट्रक्शन प्रोजेक्ट में गैरकानूनी तरीके से डबरी को सीधे नदी में डालने पर याचिका दायर की थी जिसमे
कामन कॉज ने अपनी याचिका में समयबद्ध मलबा निस्तारण योजना जल्द सौंपने का दिशानिर्देश देने की मांग की है। आपको बता दे कि इसके साथ ही जबतक सही तरीके से मलबे का निस्तारण शुरू नहीं हो जाता है, तब तक परियोजना पर काम करने वाले को सड़क निर्माण करने से रोक देने की भी मांग की गई है। बहरहाल अब देखना ये होगा कि राज्य सरकार n.g.t को क्या जवाब या तर्क देती है और n.g.t इस तर्क से कितना सहमत हो भी पाती है या नही

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here