सुनो उत्तराखंड देहरादून ,हरिद्वार , रुड़की मैं रहने वालों बाज़ार मैं है लाखो रुपए की नकली करेंसी ! हुवा खुलासा जब दो युवक हुए नकली 6 लाख रूपए के साथ गिरफ्तार पूरी ख़बर सावधान रहो

350

सुनो उत्तराखंड देहरादून ,हरिद्वार , रुड़की मैं रहने वालों बाज़ार मैं है लाखो रुपए नकली करेंसी ! हुवा खुलासा जब दो युवक हुए नकली 6 लाख रूपए के साथ गिरफ्तार पूरी ख़बर सावधान रहो

ख़बर आपके देहरादून से है जहां पुलिस ने आज लगभग साढ़े छह लाख की नकली करेंसी पकड़ी है। ओर इस करेंसी के साथ दो युवकों को भी गिरफ्तार किया है। बता दे कि पुलिस से मिली जानकारी के अनुसार आज क्लमेंटटाउन थाना पुलिस ने साढ़े छह लाख रुपए की नकली करेंसी के साथ दो युवकों को गिरफ्तार किया।
पर उनका मास्टरमाइंड फरार हो गया। वहीं एसएसपी अरुण मोहन जोशी ने बताया कि 10- 12 लाख रुपए आरोपी मार्केट में चला चुके थे।ये दोनों आरोपी गाजियाबाद के रहने वाले हैं। जबकि मास्टरमाइंड संजय रुड़की का रहने वाला है।:

एक बार फिर बता दे कि देहरादून पुलिस ने नकली नोटों का व्यापार करने वाले दो शातिर अभियुक्तों को थाना क्लेमेंट टाउन क्षेत्र से गिरफ्तार किया है। पकड़े गए शातिरों से नकली भारतीय करेंसी ₹6, 49 हज़ार सहित दो प्रिंटर, चार प्रिंटिंग कार्टेज, एक पिस्टल और चार जिंदा कारतूस व एक बुलेट मोटरसाइकिल भी बरामद की है। पकड़े गए दोनों शातिर लंबे समय से अपने साथी संजय शर्मा के साथ दिल्ली से व साथी संजय शर्मा के घर से नकली नोट छापने का धंधा कर रहे थे। फिलहाल इस पूरे धंधे का मास्टरमाइंड संजय शर्मा अभी फरार चल रहा है। जानकारी है कि पुलिस को सूचना मिली थी कि दो लड़के नकली भारतीय करेंसी को लेकर देहरादून आ रहे हैं जो कि नकली करेंसी का व्यापार करते हैं सूचना पर पुलिस ने सघन चेकिंग अभियान के दौरान दोनों को गिरफ्तार कर लिया। पकड़े गए दोनों अभियुक्त मूल रूप से उत्तर प्रदेश के रहने वाले हैं पकड़े गए दोनों आरोपियों ने बताया कि वह दिल्ली से नकली करेंसी छाप कर मंगेलपुरी, रुड़की, हरिद्वार में व्यापार करने के लिए आए थे। वह नकली नोट कभी दिल्ली के किसी होटल गेस्ट हाउस में बैठकर या फिर इस पूरे मामले के मास्टरमाइंड संजय शर्मा के घर पर बैठकर छापते थे। करीब 2 महीने पहले संजय शर्मा इनको दिल्ली में मिला था जिसके बाद तीनों मिलकर नकली नोट बनाने का धंधा करने लगे। बताते चलें कि पकड़े गए अभियुक्त राजेश गौतम कि साल 2015 में नोएडा में लूट के दौरान पुलिस मुठभेड़ में बाएं पैर में गोली लगी थी और अभी तक लगभग 10 से 12 लाख रुपये मार्किट में चला चुके है वही पुलिस द्वारा आरोपियों के अन्य आपराधिक इतिहासो की जानकारी ली जा रही है ।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here