बता दे कि देश की रक्षा करते हुए हमारे देवभूमि उत्‍तराखंड का भारत माता का एक और लाल सरहद पर शहीद हो गया था जम्मू—कश्मीर के राजौरी जिले के नौसेरा सेक्टर में पाकिस्तानी सेना की ओर से की गई गोलाबारी में देहरादून के राझावाला (सहसपुर) निवासी लांस नायक संदीप थापा शहीद हो गए थे वे तीसरी गोरखा राइफल्स में तैनात थे
भारत सरकार की ओर से जम्मू—कश्मीर से अनुच्‍छेद-370 हटाये जाने के बाद से पड़ोसी मुल्क पाकिस्तान की ओर से नापाक हरकत की जा रही है। इससे एलआसी पर तनाव बढ़ा हुआ है। इस बीच सेना का जवान संदीप थापा अपनी ड्यूटी पर मुस्तैद रहे और देश की रक्षा करते हुए प्राण न्यौच्‍छावर कर दिए।


बता दे कि सरहद पर संदीप थापा की शहादत की खबर मिलने से उनके घर में कल से ही मातम पसर गया था तो शहीद के परिजनों का रो रोकर बुरा हाल है आज शहीद संदीप का पार्थीव शरीर देहरादून उनके आवास लाया गया जहा उनकी अंतिम यात्रा मैं पूरे देहरादून के निवासियों का जन सैलाब उमड़ पड़ा सभी राजनीतिक दल के नेता कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष प्रीतम सिंह समेत कही लोग शहीद के घर पहुचे जहा उन्होंने उनको भावबिनी श्रदांजलि दी ।
शहीद सन्दीप का परिवार पिछली चार पीढ़ी से देश सेवा को समर्पित है ।

I
कल जब लांसनायक संदीप थापा की शहादत की खबर उनके पिता हवलदार(सेवानिवृत्त) भगवान सिंह को मिली थी तब से ही उनकी आंखे भी नम है ओर उनका गला भर हुवा है वो अंदर दे दुःखी है ,पर इन सब बातों से अलग उन्हें बेटे की शहादत पर गर्व है , शहीद संदीप के पिता बोल रहे है कि उनके बेटे ने भारत माता की सेवा में अपने प्राण न्योछावर किए हैं। फौज में भेजने के साथ ही उन्होंने अपने दोनों बेटों को भारत माता की सेवा में समर्पित कर दिया था। उन्होने कहा कि उन्हें अपने बेटे की शहादत पर गर्व है कि वह देश के काम आया।


इसके साथ ही पाकिस्तान की कायरतापूर्ण हरकत पर उनकी आंखें गुुस्से से भर आई। एक सवाल के जवाब में उन्होंने कहा कि भारतीय सेना को पाकिस्तान की हरकत का मुंह तोड़ जवाब देना चाहिए। हर बार पाकिस्तान सीजफायर उल्लंघन कर भारतीय सैनिकों के मनोबल को तोड़ना चाहता है। कब तक भारतीय परिवार अपने घरों के बेटों को ऐसी कायरतापूर्ण हरकतों में खोते रहेंगे? भारत सरकार को पाकिस्तान के खिलाफ कड़े कदम उठाने चाहिए। जिससे वह कभी भी भारत की ओर आंख उठा कर नहीं देख सके।


आपको बता दें कि लांसनायक संदीप का परिवार चार पीढ़ियों से देश की सेवा कर रहा है। संदीप के परदादा भी भारतीय सेना में थे। जिसके बाद उनके दादा लक्ष्मण सिंह भी सेना में बतौर सूबेदार अपनी सेवाएं दी। पिता भगवान सिंह भी सेना में हवलदार के पद पर तैनात रहें। वहीं, अब लासंनायक संदीप के साथ ही उनके भाई नवीन थापा भी सेना में सैनिक के रूप में अपनी सेवाएं दे रहे हैं।

मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत भी
शहीद संदीप थापा को श्रदांजलि देने उनके आवास पहुचे उनकी अंतिम यात्रा मैं शामिल हुए
मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र रावत ने कहा कि
सीमा पर पाकिस्तान की गोलीबारी में उत्तराखंड के सपूत संदीप थापा देश के लिए कुर्बान हुए हैं। मैं, लांसनायक थापा की शहादत को कोटि कोटि नमन करता हूं। उनके परिजनों को सांत्वना प्रदान करने की प्रार्थना करते हुए, विश्वास दिलाता हूं हम सब ओर पूरी सरकार हर समय शहीद के परिजनों के साथ खड़े रहेंगे।
वही मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र रावत ने कहा कि पाकिस्तान जो हरकते कर रहा है जिस तरह से वो कर रहा है अब वो नही चलेगा।
मुझे विस्वास है कि अब लबे समय तक हमारे जवान शहीद नही होंगे


उनकी शहादत नही होगी ।
क्योंकि अब पाकिस्तान को मुंह तोड़ जवाब दिया जाएगा। ओर दिया भी जा रहा है।
वही मुख्यमंत्री त्रिवेन्द्र रावत ने कहा कि सैन्यधाम उत्तराखंड की गौरवशाली परंपरा का निर्वहन करते हुए नौशेरा सेक्टर में शहीद हुए संदीप थापा को भावपूर्ण श्रद्धान्जलि अर्पित की। हमें अपनी सेनाओं पर पूर्ण विश्वास है कि संदीप थापा का बलिदान व्यर्थ नहीं जाएगा। थापा परिवार के साथ हम सबकी गहरी संवेदनाएं हैं।
इस बीच जनता का सैलाब शहीद सन्दीप थापा की अंतिम यात्रा मैं उमड़ आया जहा पाकिस्तान मुर्दाबाद के नारे लग रहे थे तो वही शहीद संदीप अमर रहे,


जब तक सूरज चांद रहेंग संदीप तेरा नाम रहेगा , के नारों से पूरी दूंन नगरी गुज उठी।
हमारे पूरे बोलता उत्तराखंड परिवार की तरफ से शहीद संदीप थापा को भावभीनी श्रदांजलि।
संदीप थापा अमर रहे नारो के साथ
पूरे सैन्य सम्मान के साथ उत्तराखंड का लाल सन्दीप थापा पंचतत्व मैं विलीन हो गए है।
आज देहरादून की जनत की आंखों मैं पाकिस्तान के खिलाफ गुस्सा था तो अपने उत्तराखंड के लाल की शहादत पर उनको गर्व भी था ।
बहराल ये कहता है बोलता उत्तराखण्ड कि जिस तरह आप ने , सरकार ने, सभी राजनीतिक दलों ने, शहीद संदीप थापा की अंतिम यात्रा मैं उमड़ कर उनके परिजनों को विसवास दिलाया कि हम सब आपके साथ है।ठीक उसी तरह आगे भी उनके परिवार की सुध लेते रहना मेरे उत्तराखण्ड के लोगो, ओर सरकार ,क्योकि
यही होगी हमारी शहीद संदीप थापा को सच्ची श्रदांजलि।
संदीप तो अपना फर्ज़ निभा गए अब बारी आपकी , हमारी है।



LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here