उत्तराखंड के लाल मेजर चित्रेश बिष्ट कि थी 7 मार्च को शादी ,अब शहीद होकर आ रहे है घर , परिवार मैं कोहराम मच गया, उत्तराखण्ड मै दुःख की लहर

1889

: घर में चल रही थी मेजर  शादी की तैयारी, तभी आई शहादत की खबर

देहरादून: जम्मू-कश्मीर में तैनात देहरादून के मेजर चित्रेश बिष्ट के घर उस समय कोहराम मच गया, जब पिता एसएस बिष्ट को बेटे के शहीद होने की खबर मिली. जिस घर में मेजर चित्रेश की शादी ही तैयारी चल रही थी. वहीं, उनके शहीद होने की जानकारी मिलते ही घर में मातम पसर गया. मेजर चित्रेश की शादी 7 मार्च को होनी थी.
देहरादून निवासी मेजर चित्रेश बिष्ट जम्मू-कश्मीर में इंजीनियरिंग विभाग में तैनात थे. जानकारी के मुताबिक, शनिवार शाम को नौशेरा सेक्टर में नियंत्रण रेखा के पास तलाशी अभियान के दौरान सेना को इस बात की जानकारी मिली कि LOC के करीब 1.5 किमी अंदर आतंकियों ने इम्प्रोवाइज्ड एक्सप्लोसिव डिवाइस (IED) लगाया था. इसके बाद सेना सतर्क हो गई. इस दौरान IED डिफ्यूज करते समय ब्लास्ट हो गया और इस घटना में मेजर चित्रेश शहीद हो गए.
राजौरी में हुए IED ब्लास्ट मेंउत्तराखंड के
शहीद मेजर चित्रेश के पिता एसएस बिष्ट उत्तराखंड पुलिस से सेवानिवृत्त हैं. उनका परिवार देहरादून के नेहरू कॉलोनी में रहता है. मेजर चित्रेश के शहादत की सूचना मिलते ही परिवार में शोक की लहर दौड़ गई. जिसने भी ये खबर सुनी वह गमगीन परिवार को ढांढस बंधाने बिष्ट परिवार के घर पहुंचने लगा. चित्रेश बिष्ट 2010 में आईएमए (भारतीय सैन्य अकादमी) देहरादून से पास आउट हुए थे.


जम्मू ब्लास्ट में उत्तराखंड के मेजर चित्रेश बिष्ट शहीद

पुलवामा में दो दिन पहले हुए आतंकी घटना में उत्तराखंड के उधमसिंह नगर के वीरेंद्र सिंह राणा और उत्तरकाशी के मोहनलाल रतूड़ी के बाद मेजर चित्रेश बिष्ट की शहादत की खबर ने एक बार फिर शोक की लहर फैला दी है। चित्रेश बिष्ट के पिता उत्तराखंड पुलिस से सेवानिवृत्त हुए हैं।
जम्मू कश्मीर के राजोरी के नौशेरा सेक्टर में एक बम ब्लास्ट में मेजर चित्रेश शहीद हो गए। सेना के इंजीनियरिंग विभाग में तैनात चित्रेश नियंत्रण रेखा के पास एक विस्फोटक डिवाइस को निष्क्रिय कर रहे थे कि वहां पर ब्लास्ट हो गया।

नेहरू कॉलोनी स्थित उनके घर पर     सभी बड़े नेता पहुचे ।भाजपा प्रदेश अध्यक्ष अजय भट्ट सहित रायपुर विधायक उमेश शर्मा काऊ तथा धर्मपुर विधायक विनोद चमोली सहित अनेक नेता शहीद के परिवार को ढांढस बंधा रहे हैं। अगले महीने 7 मार्च को मेजर चित्रेश की शादी तय की गई थी।

  1. राज्यपाल श्रीमती बेबी रानी मौर्य ने जम्मू कश्मीर में शहीद हुए देहरादून निवासी मेजर चित्रेश बिष्ट की शहादत पर दुःख व्यक्त किया है । अपने संदेश में राज्यपाल ने कहा कि अदम्य साहस और शौर्य का प्रदर्शन करते हुए मेजर बिष्ट ने कर्तव्य पालन और राष्ट्र की रक्षा में सर्वोच्च बलिदान दिया है। उन्होंने शहीद के परिवार के प्रति अपनी संवेदना व्यक्त की है।

    उत्तराखंड विधानसभा अध्यक्ष प्रेम चंद अग्रवाल ने जम्मू-कश्मीरी के रजौरी स्थित नौशेरा सेक्टर में नियंत्रण रेखा के पास ब्लास्ट में शहीद हुए देहरादून के मेजर चित्रेश बिष्ट की शहादत पर गहरा शोक व्यक्त किया है। अग्रवाल ने शहीद मेजर को श्रद्घांजलि अर्पित करते हुए उनके परिजनों के प्रति गहरी संवेदना व्यक्त की है।
    इससे पहले मुख्यमंत्री त्रिवेन्द्र रावत ने दुःख व्यक्त करते किया ओर कहा कि पूरी केंद्र सरकार से लेकर उत्तरखण्ड की सरकार शहीद मेजर के परिवार के साथ खड़ी हैै ।

  2. बड़ी खबर:- पाकिस्तानी गोलीबारी का भारतीय सेना ने दिया मुंहतोड़ जवाब, धमाके में मेजर शहीद
    राजौरी के नौशेरा सेक्टर में ब्लास्ट की खबर, मेजर शहीद, एक जवान घायल
    नई दिल्ली। जम्मू-कश्मीर के पुलवामा में गुरुवार को हुए ब्लास्ट में शहीद 40 जवानों की चिता की आग अभी ठंडी भी नहीं हुई है कि घाटी में एक और ब्लास्ट की खबर सामने आ गई है. यह ब्लास्ट राजौरी के नौशेरा सेक्टर में नियंत्रण रेखा एलओसी के पास हुआ है, जिसमें एक मेजर शहीद हो गए हैं और एक जवान के घायल होने की भी सूचना है। वहीं, पाकिस्तान ने एक बार फिर अपनी बेशर्मी दिखाई है। पाक की सेना ने शनिवार शाम अंतरराष्ट्रीय सीमा के सटे राजौरी में फिर से सीजफायर का उल्लंघन किया है. पाकिस्तान की तरफ से हो रही इस गोलीबारी में एक जवान के घायल होने की खबर है। हालांकि, भारतीय सेना के जवानों ने पाकिस्तानी गोलीबारी का मुंहतोड़ जवाब दिया है।
    जानकारी के मुताबिक नौशेरा सेक्टर में नियंत्रण रेखा से 1.5 किलोमीटर अंदर आतंकियों ने इम्प्रोवाइज्ड एक्सप्लोसिव डिवाइस लगाया था। सेना की तलाशी अभियान के दौरान इस बात की जानकारी मिली कि वहां पर लगाई गई है। इसके बाद सेना सतर्क हो गई। लेकिन आईईडी डिफ्यूज करते समय ही ब्लास्ट हो गया जिसमें एक मेजर शहीद हो गए, वो उत्तराखंड से है।वहीं एक जवान भी घायल हुआ है। शहीद होने वाले मेजर इंजिनियरिंग कॉप से थे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here