दुःखद ख़बर : सीएम त्रिवेंद्र के ओएसडी की मौत, कोरोना से थे संक्रमित , तो मन्त्री हरक सिंह भी कोरोना पजिटिव ओर पूरी रिपोर्ट

 उत्तराखंड में कोरोना संक्रमण का ग्राफ दिन-ब-दिन बढ़ता जा रहा है। हालांकि, कोरोना वायरस से जंग जीतने वाले मरीजों की संख्या में भी तेजी से इजाफा हो रहा है, जो राहत की बात है।  मंगलवार को 1107 मरीज ठीक हुए हैं, जबकि 874 नए मामले सामने आए हैं।
इनमें सबसे अधिक 368 देहरादून से हैं।
इसके अलावा 158 ऊधमसिंह नगर,
76 नैनीताल,
62 हरिद्वार
43 उत्तरकाशी
, 42 पौड़ी गढ़वाल
, 34 अल्मोड़ा
, 28 टिहरी गढ़वाल,
23 चमोली,
12 बागेश्वर,
10 रुद्रप्रयाग,
17 पिथौरागढ़
और एक चंपावत में सामने आया है।
वहीं, 11 की मौत हुई है। वहीं, प्रदेश में अब संक्रमित मरीजों की संख्या 42651 हो गई है, जिनमें से 30107 स्वस्थ हो चुके हैं। वर्तमान में 11831 केस एक्टिव है
सीएम के ओएसडी का निधन, कोरोना से थे संक्रमित 

मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत के विशेष कार्याधिकारी गोपाल सिंह रावत का मंगलवार को अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान ऋषिकेश में निधन हो गया। कोरोना संक्रमित होने के कारण 31 अगस्त को उन्हें एम्स में भर्ती किया गया था। मुख्यमंत्री ने उनके निधन पर गहरा दुख व्यक्त किया है। मुख्यमंत्री के ओएसडी गोपाल सिंह रावत (62 वर्ष) की 29 अगस्त को कोविड रिपोर्ट पॉजिटिव आई थी। 31 अगस्त को उन्हें अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान ऋषिकेश में भर्ती किया गया था। यहां उनकी हालत निरंतर गंभीर बनी हुई थी। उन्हें आइसीयू वेंटीलेटर पर रखा गया था। इस बीच चार मर्तबा जांच में उनकी रिपोर्ट पॉजिटिव आई थी।
पांचवीं बार 17 सितंबर को उनकी रिपोर्ट नेगेटिव आई थी। उन्हें नॉन कोविड आईसीयू वेंटीलेटर में शिफ्ट कर दिया गया था। मंगलवार को इनकी रिपोर्ट फिर पॉजिटिव आई। 

वही कैबिनेट मंत्री हरक सिंह की कोरोना रिपोर्ट पॉजिटिव 

मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत का कोविड टेस्ट नेगेटिव आया है
ख़बर है कि शिक्षा मंत्री अरविंद पांडेय की रिपोर्ट भी नेगेटिव है। मंगलवार को कैबिनेट मंत्री हरक सिंह रावत, उच्च शिक्षा राज्य मंत्री धन सिंह रावत, उप नेता प्रतिपक्ष  करन महरा और भाजपा विधायक पुष्कर सिंह धामी में कोरोना संक्रमण की पुष्टि हुई है।
मंगलवार को मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र देहरादून में एक कार्यक्रम में शामिल हुए थे, कैबिनेट मंत्री हरक सिंह रावत भी इस कार्यक्रम में मौजूद थे। मुख्यमंत्री ने कहा कि वे कोरोना प्रोटोकॉल का पूरा पालन कर रहे हैं। सभी से सुरक्षित दूरी बनाकर चल रहे हैं। उन्होंने कहा कि वे बुधवार को विधानसभा सत्र में हिस्सा लेने के लिए सुबह 10 बजे विधानसभा पहुंच जाएंगे।
सीएम के ओएसडी गोपाल सिंह रावत का आज निधन हो गया वह कोरोनावायरस से संक्रमित थे और पिछले कई दिनों से वेंटिलेटर पर थे आज उन्होंने अंतिम सांस ली वही गोपाल सिंह रावत के निधन पर मुख्यमंत्री  त्रिवेन्द्र सिंह रावत ने
गहरा शोक व्यक्त किया है। उन्होंने कहा कि ” गोपाल रावत जी का निधन, मेरे लिए बड़ी व्यक्तिगत क्षति है। वे एक कुशल और योग्य अधिकारी थे। परमपिता परमेश्वर दिवंगत आत्मा को अपने श्रीचरणों में स्थान दें और शोक संतप्त परिजनों को धैर्य प्रदान करें। श्री गोपाल रावत जी के परिजनों के साथ मेरी गहरी संवेदनाएं हैं।”
इसके साथ ही मुख्यमंत्री त्रिवेंन्द सिंह रावत के मीडिया सलाहकार रमेश भट्ट सहित सभी मुख्यमंत्री कार्यलय के सभी कार्यकर्ताओं ने अधिकारियों ने दुख प्रकट किया
ओर ये दुःखद हादसा यही नही रुका
मुख्यमंत्री त्रिवेन्द्र सिंह रावत ने मुख्यमंत्री प्रेस सूचना ब्यूरो में कार्यरत सूचना विभाग के फोटोग्राफर देवेन्द्र रावत के पिता भीम सिंह रावत के निधन पर गहरा दुख व्यक्त किया। उन्होंने दिवंगत आत्मा की शांति एवं दुख की इस घडी में उनके परिजनों को धैर्य प्रदान करने की ईश्वर से कामना की है।
       मुख्यमंत्री के मीडिया समन्वयक दर्शन सिंह रावत के साथ ही मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र रावत के मीडिया सलाहकार रमेश भट्ट,
सचिव सूचना दिलीप जावलकर, महानिदेशक सूचना डॉ. मेहरबान सिंह बिष्ट, अपर निदेशक सूचना अनिल चन्दोला, संयुक्त निदेशक राजेश कुमार, आशीष त्रिपाठी, सहायक निदेशक एवं प्रभारी मुख्यमंत्री प्रेस सूचना ब्यूरो रवि बिजारनियां, विशेष कार्याधिकारी सूचना,
सूचना अधिकारी नितिन उपाध्याय

मलकेश्वर प्रसाद कैलखुरी सहित विभागीय अधिकारियों ने भी देवेन्द्र रावत के पिताजी के निधन पर गहरा दुख व्यक्त किया है।


LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here