उत्तराखंड के एक नही दो लाल हो गए शहीद टिहरी के हमीर सिंह के बाद कोटद्वार के मनदीप सिंह भी शहीद

अभी कुछ समय पहले ख़बर मिली थी कि भारत माता की रक्षा करते हुए उत्तराखंड़ का लाल एक हमीर सिंह शहीद हो गए है ।जी हा ऋषिकेश के गुमानीवाला श्यामपुर निवासी राईफल मैन हमीर शहीद हो गये वो जम्मू कश्मीर के बांदीपुरा सेक्टर में आज सुबह 6 बजे शहीद हो गए । वे मूल निवासी पोखरियाल गाँव लम्बगांव के निवासी थे। राइफलमैन हमीर सिंह 12 गढ़वाल राइफल में तैनात थे । 
आतंकियों की घुसपैठ नाकाम करते वक्त एक और जांबाज सैनिक शहीद हो गया । तो दूसरी उत्तराखंड के लिए दुःखद ख़बर भी वही से आई जब पता चला कि कोटद्वार के शिवपुर निवासी जम्मू कश्मीर के बांदीपुर सेक्टर में घुसपैठ वक्त वीरगति को प्राप्त हो गए आपको बता दे कि शहीद सैनिक मनदीप सिंह भी 12 राष्ट्रीय राइफल में तैनात थे ।  सूचना मिलने के बाद शहीद सैनिक के शहीद होने की ख़बर के बाद शहीद जवान के घर ओर आस पास कोहराम मचा हुआ है हर तरफ रोने की आवज़ ओर दिल में अपने लाडले के लिए प्यार आखों मे आंसू ओर कुछ लोगो के दिमाग मे पाकिस्तान के खिलाफ गुस्सा साफ देखा जा रहा है
आपको बता दे कि देर रात से ही पाकिस्तान की तरफ से गोलीबारी के बीच आतंकवादी घुसपैठ कराई जा रही थी जिसको रोकने में सेना के एक मेजर सहित 3 जवान शहीद हो गए मुठभेड़ में दो आतंकवादी भी मारे गए हैं । आपको बता दें गुरेज सेक्टर में तो ख़बर लिखे जाने तक एनकाउंटर जारी था अगर शहीद जवान हमीर सिंह की बात करे तो उनकी एक छोटी बेटी है और पिता एसएसबी से सेवारत है । अभी हाल ही मे ऋषिकेश के विकास गुरुग भी महज़ 23 साल की उम्र मैं देश के लिए शहीद हो गए थे । आपको बता दे कि इस मुठभेड़ में दो आतंकवादी अब तक मार गिराए गए है। पाकिस्तान को ओर से आतंकियों को भारत मे घुसपैठ कराने के लिए लगातार फायरिंग की जा रही है।इस दौरान पाकिस्तान की तरफ से बड़े हथियारों से भी हमला हो रहा है तो भारत के जवान लगातार दुश्मन को मुहतोड़ जवाब दे रहे है देव भूमि उतराखंड के लाल हमीर सिंह मूल रूप से टिहरी के रहने वाले है जो लंबगांव क्षेत्र के पोखरियाल गाँव के है । उनके शहीद होने की ख़बर सुनकर टिहरी से लेकर देहरादून में तक उनके पूरे परिवार मे कहोराम मच गया है। मुख्य मंन्त्री त्रिवेन्द्र रावत ने शहीद के परिवार जनों को इस दुःख की घड़ी मे हर सहयोग और मदद करने की बात कहते हुए अपनी शोक संवेदनाये प्रकट की है। और कह है कि आज भारत माता की रक्षा करते देवभूमि के दो लाल वीरगति को पार्प्त हो गए है ये उतराखंड के लिए बड़े दुःख का समय है खास कर उनके परिवार के लिए अभी हाल ही मे जिस तरह से उत्तराखंड के वीर जवान एक के बाद एक जवान भारत माता की रक्षा करते हुए शहीद हो रहे ऐसे मे बस यही कहुगा की इन वीर शहीदों का बलिदान बेकार नही जाएगा और सरकार हर समय शहीद जवान के परिवार के सहयोग के लिए साथ है और आगे भी खड़ी रहेगी

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here